You are currently viewing FATEHPUR- दागी राजस्व कर्मी के खिलाफ ग्रामीण दर्ज कराएंगे विरोध

दागी राजस्व कर्मी के खिलाफ ग्रामीण दर्ज कराएंगे विरोध

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

फतेहपुर (ब्यूरो)– फतेहपुर जनपद में भ्रष्टाचार को लेकर ठोस कार्रवाई कई मामलों में हो रही है लेकिन जांच के नाम पर लीपापोती ने कार्रवाई की प्रगति को कुंद कर दिया है। जिससे दागी व भ्रष्टाचारियों के हौसले बुलंद है। ताजा मामला जनपद के बिन्दकी तहसील का प्रकाश में आया है। जहां एक राजस्व कर्मी का रिपोस्टिंग क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया। हद तो तब हो गई जब राजस्व कर्मी के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई के बाद पर्याप्त सबूत व गवाह ना मिलने पर मामले को ठंडे बस्ते में डाल कर्मी को बहाल कर दिया गया जिसके बाद पुन: उन्हीं गांवों में रीपोस्टिंग तहसील प्रशासन के आला अधिकारियों ने कर दी जिससे तहसील प्रशासन सवालों के घेरे में आ गया। ग्रामीणों का आरोप है कि दागी को आखिर क्यों उन्हीं गांव में पुनः हरि पोस्टिंग की गई है यह सिस्टम पर सवाल खड़े कर रहे।
भ्रष्टाचार का जीता जागता सबूत वीडियो वायरल होने के बावजूद उन्हीं गांव पर पोस्टिंग राजस्व कर्मी की सत्ता में पहुंच व ऊंची पकड़ का जीता जागता नमूना है।
आखिर ऐसी कौन सी खूबी राजस्व कर्मी में है जो अन्य राजस्व कर्मियों में नहीं पाई जाती जिसके चलते लंबे समय से उक्त कर्मी की तैनाती मौहार गांव में की गई है। जिलाधिकारी फतेहपुर अपूर्व दुबे से मिलकर हम विरोध दर्ज कराएंगे। एक राजस्व कर्मी को छोड़ बाकी किसी की भी तैनाती गांव में हो हमें कोई एतराज नहीं है।
लेकिन जहां एक ओर उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए दागी व भ्रष्टाचार में लिप्त कर्मचारियों पर कठोर कार्रवाई कर नजीर पेश कर रही हो तो दूसरी ओर ऐसे दागी राजस्व कर्मियों की पुनः रिपोस्टिंग तमाम तरह के सवाल खड़ी कर रहे हैं जिससे इनकार नहीं किया जा सकता। सोमवार को जिलाधिकारी को पत्र देकर समूचे मामले से अवगत कराया जाएगा।