FATEHPUR- चोरी-छिपे चल रहे ढाबा संचालक के खिलाफ अभियान चला प्रशासन ने लगाई फटकार

चोरी-छिपे चल रहे ढाबा संचालकों के खिलाफ अभियान चला प्रशासन नें लगाई फटकार

कड़ी चेतावनी के बावजूद सोशल डिस्टेंस व लाँक डाउन का कर रहे थे उल्लंघन जमकर फटकारा

चौडगरा फतेहपुर जनपद के मलवां विकासखंड में वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के चलते समूचा विश्व इन दिनों अस्तव्यस्त है। जिसके चपेट में बड़ी जनसंख्या वाला देश भारत भी कोरोना वायरस का दंश झेल रहा है। सोशल डिस्टेंस, लॉक डाउन का उल्लंघन, कई बार चेतावनी देने के बावजूद नियमों का पालन ना करने वालों पर कठोर कार्रवाई ना होने के चलते शासन के नियमों की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही थी। जिसकी खबर समय-समय पर सोशल मीडिया अखबार के माध्यम से उच्चाधिकारियों तक सूचना पहुंचती रही है। खबर का संज्ञान लेकर क्षेत्राधिकारी बिंदकी योगेंद्र मलिक के निर्देशन में महामारी रोकथाम अभियान सोशल डिस्टेंस का पालन न करने वालों के खिलाफ चल रहे धरपकड़ अभियान के तहत कल्यानपुर थानाध्यक्ष ई. विनोद कुमार यादव की अगुवाई में होटल ( ढाबा) में मनमानी कर रहे संचालकों पर महामारी के तहत औचक निरीक्षण कर दी चेतावनी अपने को जिम्मेदार व समाज का सजग प्रहरी का दंभ भरने वालों को कड़ी फटकार लगाते हुए। जमकर लगाई लताड़। औचक निरीक्षण कार्रवाई से चोरी छुपे चल रहे ढाबा संचालकों में मचा हड़कंप।

थानाध्यक्ष ई. विनोद कुमार ने बताया कि महामारी के दौरान शासन के निर्देशों की अवमानना अवहेलना करना कानूनन जुर्म व अपराध की श्रेणी में आता है। कोविड-19 की लड़ाई में सभी को अपनी सहभागिता निभाते हुए जिम्मेदारी निभानी चाहिए सुरक्षित जीवन के लिए 2 गज की दूरी बहुत जरूरी है। सभी को पालन करते हुए स्वयं सुरक्षित और दूसरों को सुरक्षित रखने का संकल्प लेते हुए अत्यधिक जरूरी कार्य करने चाहिए।