मंदिर निर्माण की खुशी में ग्रामीण क्षेत्रों में उत्सव का माहौल।

रिपोर्ट-सूरज सागर।

बरेली-पांच सदी तक चले राम मंदिर निर्माण के आंदोलन के दौरान मर्यादा पुरुषोत्तम की धरा ने धर्म कभी नहीं छोड़ा रामभक्तो के बलिदानी संघर्ष के पीछे भरोसे की बह नींव थी कि एक न एक दिन रामलला का भव्य मंदिर बनेगा और उसमे रामलला विराजेंगे…और वह दिन आ गया।

वही नगर वासियों और ग्राम वासियों ने अपने अपने घरों में कम से कम 5 दीप जलाकर भगवान श्री राम का भजन और पूजन किया इस अवसर पर शौर्य शर्मा फतेहपुर समसोई, नितिन पाठक जिला सयोंजक आईटी विभाग आंवला,शुभम सिंह, अजीत सिंह, ऋषभ पाठक, धर्मेंद्र शर्मा फतेहपुर समसोई आदि राम भक्त मौजूद रहे।