You are currently viewing बाबा जयगुरुदेव के मासिक भंडारा कार्यक्रम में 51 हजार से अधिक जरूरतमंदों को भोजन-भंडारा

बाबा जयगुरुदेव के मासिक भंडारा कार्यक्रम में 51 हजार से अधिक जरूरतमंदों को भोजन-भंडारा

परम पूज्य परम सन्त बाबा जयगुरुदेव जी महाराज का 9वां पावन वार्षिक भंडारा महापर्व जेष्ठ कृष्ण पक्ष त्रयोदशी तदनुसार 7-8 जून 2021 को बाबा उमाकान्त जी महाराज आश्रमों पर एवं देश-विदेश में फैले नामदानियों, सत्संगीयों, सहयोगियों व श्रद्धालुओं ने कोरोना काल में सरकारी नियमों का पालन करते हुए अपने-अपने घरों पर धूमधाम से मनाया गया।

अपने गुरु की याद में, जहां लॉकडाउन नहीं है वहां सरकारी नियम-कानून व्यवस्था का पालन करते हुए पूरे देश के आश्रमों पर हर माह की कृष्ण पक्ष त्रयोदशी को मासिक भंडारा कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है।

इसी क्रम में 7 जुलाई को देश-विदेश में स्थित विभिन्न बाबा उमाकान्त जी महाराज आश्रमों पर सुबह सूर्योदय के कुछ समय बाद दो-तीन घंटे ध्यान भजन और उसके बाद जय गुरु देव नाम ध्वनि की गयी। फिर संगत की गोष्ठी, महाराज जी के संदेशों को सबको बताया गया और पक्का भंडारा बना कर प्रसाद सतसंगियों व अन्य जरूरतमंदों में बांटा गया।

इस मौके पर ओडिशा में 100, झारखंड में 170, नेपाल में 875, महाराष्ट्र में 965, गुजरात में 1010, उत्तराखंड में 1200, राजस्थान में 3460, मध्य प्रदेश में 8885, उत्तर प्रदेश में 34928 यानी कुल 51,593 जरूरतमंदों को भोजन-प्रसादी का वितरण किया गया।

भक्तों द्वारा जयपुर स्थित गौशालाओं में 3660 किलो हरा चारा डलवाने के साथ-साथ चारे का गोदाम बनाने के लिए ईंटों की व्यवस्था भी की गई।

भक्तों द्वारा विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी दफ्तरों में भी प्रेमपूर्वक बिठा कर समस्त स्टाफ को भोजन कराया गया और पर्चे, कैलेंडर व सन्त दर्शिका भी दी गयी।

भोजन वितरण के समय जरूरतमंदों को महाराज जी का शाकाहारी नशामुक्त रहकर जयगुरुदेव नाम ध्वनि बोलकर तकलीफों में आराम प्राप्त करने का संदेश दिया गया।

मानव सेवा के सभी कार्य बिना किसी बाहरी सहायता या सरकारी अनुदान के, बाबा के भक्तों द्वारा आपस में ही सहयोग से किये जाते हैं।