गोंण्डा जनपद के विकासखंड छपिया मे बिना टेंडर कोटेशन के ही खरीदी गई प्रशिक्षण हेतु सामग्री

गोंण्डा जनपद के विकासखंड छपिया मे बिना टेंडर कोटेशन के ही खरीदी गई प्रशिक्षण हेतु सामग्री

रिपोर्टर सुनील वर्मा

छपिया (सुनील वर्मा): प्रमुख सचिव पंचायती राज उत्तर प्रदेश शासनादेश के अनुपालन में ग्राम पंचायत सदस्यों का एक दिवसीय प्रशिक्षण ग्राम पंचायत के विकास एवं सदस्यों के सहभागिता हेतु दिनांक 18-2-2019 से 15-3-2019 तक BDO द्वारा कराया जाना प्रस्तावित है, सदस्यों को प्रशिक्षण का उद्देश्य ग्राम -पंचायतों में उनकी भागीदारी को बढ़ाना है। प्रशिक्षण के गाइडलाइन के अनुसार 40 सदस्यों का बैच बनाकर प्रशिक्षण कराया जाना है, लेकिन प्रशिक्षण के नाम पर सहायक विकास अधिकारी पंचायत कनीराम वर्मा द्वारा खाना पूर्ति की जा रही है। प्रशिक्षण में 40 के स्थान पर 48 लोगों को बुलाया जा रहा है, तब भी लगभग लगभग सभी कुर्सियां खाली दिख रही है।

रिपोर्टरों द्वारा अधिकतम ग्राम पंचायतों में सर्वेक्षण किया गया तो सदस्यों ने बताया कि हमें कोई सूचना प्रशिक्षण से संबंधित नहीं दी गई है एवं ना ही किसी समाचार पत्र में प्रशिक्षण में प्रतिभा करने हेतु आमंत्रण से संबंधित कोई प्रकाशन कराया गया। प्रति सदस्य 42 रुपया प्रतिभागियों के हिसाब से खर्च करना है, लेकिन सदस्यों को एक चाय तथा दो बिस्कुट दे कर खाना पूर्ति की जा रही है तथा प्रशिक्षण कार्यक्रम हेतु जो भी सामग्री क्रय की गई उसका ना तो कोई टेंडर कराया गया नही कोटेशन आमंत्रित किया गया। उक्त प्रकरण पर रिपोर्टर द्वारा सहायक विकास अधिकारी पंचायत कनिक राम वर्मा से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया इसमें टेडर कुटेशन की कोई आवश्यकता नहीं है, जबकि उक्त प्रकरण पर खंड विकास अधिकारी छपिया सर्वेश कुमार के COG नंबर पर 8577883084 पर वार्ता की गई उन्होंने बताया कि एडीओ पंचायत से बात करता हूं कोटेशन आमंत्रण तो होना ही चाहिए जबकि कनिकराम वर्मा द्वारा रिपोर्टरों को नियमित रूप से बताया जा रहा है कि इसमें कोटेशन की आवश्यकता नहीं है।

उक्त प्रकरण पर उपजिलाधिकारी मनकापुर से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि यदि एक रुपए की भी खरीददारी की जाएगी तो कोटेशन टेंडर आमंत्रित करना अनिवार्य होगा उक्त प्रकरण पर जिला पंचायत राज अधिकारी 9454419046 पर वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि यदि कोटेशन आमंत्रण नहीं किया गया है, तो वित्तीय अनियमितता मानते हुए इन के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी एक तरफ हमारे देश के प्रधानमंत्री तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री देश एवं प्रदेश को करप्शन मुक्त बनाने की तरफ अग्रसर है लेकिन विकास खंड छपिया में 4 वर्ष से अधिक का अपना कार्यकाल पूरा कर चुके कनिक राम वर्मा वित्तीय अनियमितता करने से पीछे नहीं हट रहे है।

Leave a Reply