काले कानून’ से किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना रही सरकार : बबिता गौतम

काले कानून’ से किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना रही सरकार : बबिता गौतम

बुलंदशहर। मंगलवार को काला आम चौराहे पर कृषि बिल को लेकर किसानों के समर्थन में भीम आर्मी चीफ व आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भाई चंद्रशेखर आजाद के निर्देश पर आजाद समाज पार्टी के मेरठ संभाग प्रभारी वीरसिंह गौतम व जिलाध्यक्ष मदनपाल गौतम एवं जिलाध्यक्ष (महिला मोर्चा) बबीता गौतम के नेतृत्व में काला आम चौराहे पर किसान विरोधी काला कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को समर्थन दिया। किसानों के समर्थन में काले कानून को खत्म कराने के लिए राष्ट्रपति के नाम एसडीएम सदर को एक ज्ञापन दिया।

लोकसभा में पास हो चुके कृषि बिलों को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ विरोध कम नहीं हो रहा है। मंगलवार को किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद में बुलंदशहर में काला आम चौराहे पर किसानों ने ट्रैक्टर ट्रॉली रोड पर खड़े कर जाम लगाया। काले कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों को आजाद समाज पार्टी व भीम आर्मी ने अपना समर्थन दिया किसान के साथ काला आम चौराहे पर धरना प्रदर्शन कर काले कानून के खिलाफ राष्ट्रपति के नाम एसडीएम सदर को एक ज्ञापन दिया। इस मौके पर वीरसिंह गौतम प्रभारी संभाग मेरठ असपा ने केंद्र सरकार पर किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाने की साजिश रचने का आरोप लगाया। उन्होंने केंद्र सरकार से सवाल किया है कि कृषि बिलों में एमएसपी की गारंटी क्यों नहीं दी गई है?

बबीता गौतम जिलाध्यक्ष (महिला मोर्चा) असपा ने विधेयक को ‘काला कानून’ से संबोधित करते हुए सवाल किया कि, इससे किसानों को एपीएमसी/ किसान मार्केट खत्म होने पर एमएसपी कैसे मिलेगा? उन्होंने यह भी कहा कि बिल में एमएसपी की गारंटी क्यों नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि ‘मोदीजी किसानों को पूंजूपतियों का गुलाम बना रहे हैं, जिसे किसान व आज़ाद समाज पार्टी कभी सफल नहीं होने देगी।’ गौरतलब है कि बिल के लोकसभा में पास होने के बाद से पूरे देश में किसान विरोधी काले कानून के खिलाफ प्रदर्शन तेज हो गया।

नीतू सिंह, जिला महासचिव (महिला मोर्चा) असपा ने कहा कि इससे पहले भी किसानों के लिए लाए गए इस बिल का विरोध करते हुए मोदी सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने मोदी सरकार पर अपने ‘मित्रों’ का व्यापार बढ़ाने और किसानों की रोजी-रोटी पर वार करने का आरोप लगाया था। रुखसार जिला सचिव (महिला मोर्चा) असपा ने कहा ने इस दौरान कहा कि किसानों का मोदी सरकार से भरोसा उठ गया है क्योंकि शुरू से ही मोदीजी की करनी और कथनी में फर्क रहा है। उर्मिला गौतम जिला संगठन मंत्री (महिला मोर्चा) असपा ने कहा ने कहा था कि मोदी जी ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था लेकिन उनकी सरकार का काला कानून किसान-खेतिहर मजदूर का आर्थिक शोषण करने के लिए बनाया जा रहा है। हेमलता जिला सचिव (महिला मोर्चा) असपा ने कहा कि यह जमींदारी का नया रूप है और मोदी के कुछ ‘मित्र’ भारत के नए जमींदार होंगे।