शासन से दिशा-निर्देश प्राप्त हो रहे हैं उनका अनुपालन शत-प्रतिशत कराया जाए- डीएम

व्यूरो चीफ बालकृष्ण विश्वकर्मा

चित्रकूट – जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में कोविड-19 के रोकथाम एवं बचाव हेतु संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कोविड-19 के संबंध में कहा कि जो प्रतिदिन संक्रमित व्यक्ति पाए जा रहे हैं तो तत्काल हॉटस्पॉट क्षेत्र बनाकर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कराएं। सर्विलांस की टीमों को बढ़ाकर गांव में घर-घर स्वास्थ्य परीक्षण कराएं कोई भी घर छूटना नहीं चाहिए । कहा कि जो अधिकारी कर्मचारी कार्यों पर लापरवाही करें तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही कराएं जिन लोगों को होम आइशोलेशन में रखना है उनकी व्यवस्था कराएं और जो व्यक्ति गुंडागर्दी करे तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि एंटीजन टेस्ट को बढ़ाया जाए तथा जिला अस्पताल में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त रहें । उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि हॉटस्पॉट के क्षेत्रों में लगातार अति आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी लगातार जारी रहे कहीं पर कोई समस्या नहीं होनी चाहिए जो पॉजिटिव मरीज निगेटिव होकर आया है गांव पर वह अपने घर पर 14 दिन तक होम क्वॉरेंटाइन रहे कतई बाहर न निकले यह भी व्यवस्था सुनिश्चित करा लें उनको तत्काल ठीक करा लें। उन्होंने कंट्रोल रूम प्रभारी अपर उपजिलाधिकारी राम प्रकाश को निर्देश दिए कि जो पॉजिटिव केस आ रहे हैं उनसे प्रतिदिन कंट्रोल रूम से फीडबैक अवश्य लिया जाए तथा पॉजिटिव केस की जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी कंट्रोल रूम को तत्काल उपलब्ध कराएंगे। जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों से कहा कि कोविड-19 के रोकथाम से संबंधित जो शासन से दिशा-निर्देश प्राप्त हो रहे हैं उनका अनुपालन शतप्रतिशत कराया जाए।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक प्रकाश स्वरूप पांडेय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।