घर का औषधी काढ़ा बचा सकता है आपको हर वायरल से, जानिए रेसिपी

ब्यूरो चीफ आर पी यादव

कौशाम्बी:–मौसम के बदलने के साथ ही ज्यादातर लोगों वायरस फीवर या फिर सर्दी – जुकाम का शिकार हो जाते हैं। ये उन लोगों को होता है जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। इन परेशानियों को लेकर हम डॉक्टर के पास पहुंच जाते हैं लेकिन अगर हम अपने घर में देखें तो इससे झुटकारा पाने का इलाज मिल जाएगा है। जिससे हम जल्द से जल्द ठीक हो सकते हैं। यदि हम औषधियों गुणों से भरपुर घरेलू काढ़े पीए तो हमारा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सकती है। जिससे इन वायरलों से बच सकते हैं। अगर आज की परिस्थिति को देखे यानि कोरोना काल में ये काढ़ा इस वायरस से बचने में मदद करेगा।

हम आपको औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी और काली मिर्च के काढ़े के बारे में बता रहे हैं जिसे आप अपने घर में असानी से बना सकते हैं। इस काढ़े से इम्यून मजबूत होगा और आपका शरीर कोरोना से लड़ने में बेहतर रूप से सक्षम हो पाएगा। आइए जानते हैं कि आप इस काढ़े को घर में कैसे बना सकते है।

रेसिपी

5 से 6 तुलसी के पत्ते

आधा चम्मच इलायची पाउडर

काली मिर्च पाउडर

अदरक और मुन्नका

इस तरह बनाएं काढ़ा
एक पैन में दो ग्लास पानी डालें। अब इसमें तुलसी, इलाइची पाउडर, काली मिर्च, अदरक और मुनक्का डाल दें। अब इस मिक्सचर को मिला लें और इसे 15 मिनट तक उबाल लें। इसके बाद इसे ठंडा होने रख दें और छानकर पी लें। इसमें मौजूद काली मिर्च कफ निकालने का काम करती है। वहीं, तुलसी-अदरक और इलाइची पाउडर में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। तुलसी में एंटी-माइक्रोबल प्रॉपर्टीज होती हैं, जो सांस से जुड़े इन्फेक्शन्स को मारने का काम करती हैं।

काढ़े के फायदे-
इस काढ़े के इस्तेमाल से आपकी रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी, साथ ही आपका पाचन भी दुरुस्त रहेगा। इस काढ़े का दिन में दो बार सेवन करने से आपकी इम्यूनिटी बढ़ सकती है और यह आपको हानिकारक बीमारियों से भी बचा सकता है। सर्दी या फ्लू होने पर यह काढ़ा आपके गले को आराम देने में सहायता कर सकता है। इस बीमारी से लड़ना है तो आपको अपनी इम्यून पावर मजबूत करनी होगी। कमजोर इम्यून पावर के लोग इस बीमारी के आगे हार जाते हैं।