हॉटस्पॉट क्षेत्रों को लगातार सैनिटाइज कराया जाए – जिलाधिकारी

व्यूरो चीफ बालकृष्ण विश्वकर्मा

चित्रकूट – जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में कोविड-19 की महामारी के प्रभावी नियंत्रण के संबंध में कैंप कार्यालय में एक आवश्यक बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार को निर्देश दिए कि एंटीजन टेस्टिंग को बढ़ाया जाए हॉटस्पॉट के क्षेत्रों में लगातार सैनिटाइज कराया जाए । जहां पर संक्रमित व्यक्ति पाए जा रहे हैं उन क्षेत्रों पर स्वास्थ्य टीम जाकर आसपास के लोगों को सर्वे करके स्वास्थ्य परीक्षण कराए । उन्होंने कहा कि डोर टू डोर सर्विलांस का कार्य ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र में निरंतर चलता रहे नगरीय क्षेत्र में जनसंख्या एवं आवश्यकता अनुसार प्रत्येक वार्ड में पर्याप्त संख्या में टीमों का गठन कर अनिवार्य रूप से शत-प्रतिशत घरों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। डोर टू डोर सर्विलांस का कार्य एवं कंटेनमेंट जोन्स में गहन सर्विलांस का कार्य कराएं कोविड-19 एवं नान कोविड अस्पतालों की स्थिति में सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित रहे सैंपल लेने एवं सैंपल के सापेक्ष हो रही जांच की समीक्षा कांट्रैक्ट ट्रेसिंग की स्थिति एंबुलेंस की उपलब्धता एवं रिस्पांस टाइम कोविड धनात्मक मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने में लगने वाले समय एवं सुविधा की समीक्षा स्वास्थ्य विभाग से संबंधित कार्यों को मुख्य चिकित्सा अधिकारी के अधीन अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं उप मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के मध्य / कार्यों एवं प्रशासनिक अधिकारियों के मध्य भी अन्य कार्यों के संबंध में विस्तृत समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी तथा अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए गांव और शहर में संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अंतर्गत स्वच्छता को देखते हुए साफ सफाई अच्छी तरह से करा कर दवाओं आदि का छिड़काव कराया जाए । लोगों से अपील की जाए कि अपने घरों पर रहे घर से बाहर न निकले मास्क का प्रयोग करें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा साबुन से हाथ धोते रहें उन्होंने कहा कि इस बीमारी का बचाव मात्र सावधानी ही है।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक प्रकाश स्वरूप पांडेय, उपजिलाधिकारी करबी अश्विनी कुमार पांडेय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे ।