विद्युत समस्या को लेकर सैकड़ों  उपभोक्ताओं ने धरना प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार विद्युत  मंत्री सहित विद्युत विभाग के उच्च अधिकारियों को 200 लोगों के हस्ताक्षर  युक्त शिकायत पत्र देकर विद्युत व्यवस्था सही कराई जाने की मांग की है।

संवादाता राधेश्याम गुप्ता

बताते है कि विद्युत उप केंद्र अचलपुर चौधरी के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में अघोषित विद्युत कटौती और लोकल फाल्ट के चलते उपभोक्ताओं को सही रूप से 8 घंटे भी बिजली नहीं मिल पा रही है। भीषण गर्मी और करोना महामारी के बचाव के लिए अब घर में रह पाना लोगों का मुश्किल हो रहा है। अचलपुर चौधरी उप केंद्र के अवर अभियंता उपभोक्ताओं का मोबाइल भी नहीं उठाते है। यदि उपभोक्ता कोई शिकायत भी करना चाहे तो बिजली विभाग के संविदा कर्मी से लेकर अवर अभियंता तक से बात हो पाना टेढ़ी खीर साबित हो रहा है।विद्युत विभाग के इन अधिकारी कर्मचारियों पर ना तो विद्युत कारपोरेशन और ना ही किसी नेता या जनप्रतिनिधि का अंकुश है। इनके मनमानी रवैये के चलते सादुल्लाह नगर क्षेत्र के उपभोक्ता काफी त्रस्त है। गूमा फातमा जोत के विद्युत उपभोक्ता विवेक श्रीवास्तव के नेतृत्व में इकट्ठा होकर विद्युत समस्याओं को लेकर प्रदर्शन करते हुए हस्ताक्षर युक्त शिकायती पत्र मुख्यमंत्री से लेकर ऊर्जा मंत्री मुख्य अभियंता देवीपाटन मंडल जिलाधिकारी बलरामपुर यूपीपीसीएल सहित संबंधित लोगों के पास भेजा है। शिकायत पत्र में कहा गया है। कि 22 मई से लगातार विद्युत विभाग के अधिकारियों से विद्युत सब स्टेशन अचलपुर चौधरी की कमियाँ उजागर करके हर पल हर दिन की सूचना भी समय से यूपीपीसीएल लखनऊ व विद्युत विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों को बराबर दी जा रही है। यही नही पावर हाउस के अधिकारी अपने उच्च अधिकारियों को क्षेत्र में 18 घंटे की आपूर्ति की सूचना देकर अपनी कमी को जहाँ छिपाते है वही इस उमस भरी गर्मी में उपभोक्ताओं का शोषण किया जा रहा है। परंतु विद्युत उपकेंद्र अचलपुर द्वारा 8 घंटे भी बिजली उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। क्षेत्रीय उपभोक्ता अमरेश कुमार विनोद कुमार सगीर अहमद समसुद्दीन खान राजू मिश्रा बंटी श्रीवास्तव आकाश श्रीवास्तव आदि लोगों ने उमस भरी गर्मी से निजात दिलाने हेतु विद्युत आपूर्ति सही और मानक के अनुरूप सुनिश्चित कराए जाने की मांग की है।