You are currently viewing विकास की गंगा बहाने का दावा करने वाली सरकार को आईना दिखा रहा है कौशाम्बी का दादूपुर गाँव

👉विकास की गंगा बहाने का दावा करने वाली सरकार को आईना दिखा रहा है कौशाम्बी का दादूपुर गाँव

👉 मूलभूत सुविधाओं से वंचित है कौशाम्बी का दादूपुर गाँव

✒️🗞️कौशाम्बी से संवाददाता पवन साहू की खास रिपोर्ट

📝उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद कौशाम्बी का एक गाँव आज भी लगभग 50 साल पीछे चल रहा है।इस गाँव मे रहने वाले ज्यादातर लोग किसानी करते हैं और गरीबी मे अपना जीवन यापन कर रहे हैं।प्रदेश में आई योगी सरकार का कार्यकाल 4 साल से ऊपर होने को है लेकिन आज तक किसी भी अधिकारी व जनप्रतिनिधि का ध्यान इस गाँव की ओर नही गया । यहाँ पर आज भी लोग खड़ंजा, नाली , आवास , पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहें हैं।आपको बता दें ताजा मामला सिराथू तहसील के अंतर्गत गौसपुर नवावाँ के मजरा दादूपुर गाँव का जहाँ बीती रात हुई बरसात के बाद पूरा गाँव जलमग्न हो गया।आधा दर्जन के करीब गरीबों का कच्चा मकान ढह गया । वहीं गाँव में नाली का निर्माण नहीं होने से गलियाँ तालाब में तब्दील हो गई हैं। बरसात के बाद पूरे गाँव में हाहाकार मचा हुआ है जिधर देखो उधर समस्याओं का अम्बार है। लोग अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ रात भर जगने को बेबस हैं।समस्याओं को उजागर करने के लिये जब मीडिया की टीम गाँव पहुँची तो ग्रामीणों का दर्द छलक पड़ा वर्तमान सरकार को कोसते हुए ग्रामीणों ने बताया कि आज के इस आधुनिक दौर मे उनके गाँव के लोगों को रहने के लिए छत,पीने के लिए पानी,चलने के लिए सडक और जल निकासी के लिए नाली जैसी मूलभूत सुविधाएं भी नही मिल पायीं है।