You are currently viewing FATEHPUR- लेखपाल ने बिना नोटिस दबंगई के दम पर धार्मिक स्थल को ढ़हाया, पुजारी ने लगाई न्याय की गुहार

लेखपाल ने बिना नोटिस दबंगई के दम पर धार्मिक स्थल को ढ़हाया, पुजारी ने लगाई न्याय की गुहार

पुजारी ने जिलाधिकारी और मुख्यमंत्री पोर्टल में शिकायत पत्र देकर लगाई न्याय की गुहार

यूपी फाइट टाइम्स
ठा० अनीष सिंह

फतेहपुर(ब्यूरो)– जनपद के देवमई विकासखंड क्षेत्र के खरौली गांव में धार्मिक स्थल मंदिर परिसर में हवन कुंड को स्थानीय लेखपाल ने ध्वस्त करा दिया वही मंदिर के पुजारी वैष्णो दास शिव करण सिंह ने स्थानीय लेखपाल अभिमन्यु सिंह के ऊपर आरोप लगाते हुए जनपद के जिला अधिकारी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ को लिखित शिकायत पत्र देते हुए कहा कि गांव खरौली में जो धार्मिक मंदिर आज कई वर्षों से बना हुआ है उसको स्थानीय लेखपाल ने बिना किसी नोटिस के मंदिर का हवन कुंड और मंदिर परिसर को जेसीबी से ध्वस्त करा दिया है पुजारी वैष्णो दास ने बताया कि जो स्थानीय लेखपाल अभिमन्यु सिंह है वह गांव के कुछ ऐसे तानाशाही लोगों का रिश्तेदार बताते है और अभिमन्यु सिंह लेखपाल के साथ में अतुल लेखपाल भी रहते हैं उन्होंने कहा कि जिस जगह पर मंदिर बना हुआ है वह जगह नवीनपरती है और कई वर्षों से मंदिर बना हुआ है जिसमें आसपास के लोग दर्शन करने और पूजा अर्चना करने के लिए आते हैं जबकि नवरात्र में वहां पर भव्य भंडारा भी किया जाता था लेकिन धार्मिक स्थल ध्वस्त होने से मंदिर को नुकसान पहुंचा है और हवन कुंड भी तोड़ दिया गया है जहां भक्त आकर मंदिर की जगह में बैठते थे और पूजा अर्चना होती थी वह जगह भी ध्वस्त कर दी गई है लेकिन जब स्थानीय लेखपाल अभिमन्यु सिंह से फोन पर मीडिया ने बात की तो उन्होंने बड़ी ही तानाशाही से जवाब दिया और कहा कि मुझे कुछ नहीं मालूम सामने आकर बात करो और फोन को काट दिया अब लेखपाल की ऐसी दबंगई से मंदिर के पुजारी बेहद परेशान हैं बिना किसी नोटिस और बिना किसी परमिशन के ऐसे धार्मिक स्थल को ध्वस्त करना आगे आप खुद समझ रहे हैं
वही जब उपजिलाधिकारी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि तहसीलदार से बात करके मामले की जांच कराई जाएगी ।