You are currently viewing महराजगंज/फरेंदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ राहत कैंप का दौरा कर बाढ़ पीड़ितों को किया सामग्री वितरित

महराजगंज/फरेंदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ राहत कैंप का दौरा कर बाढ़ पीड़ितों को किया सामग्री वितरित

महराजगंज/आकाश अग्रहरि

मुख्यमंत्री बृजमनगंज शाहाबाद स्थित जी.एस.नेशनल पब्लिक इंटर कॉलेज में
निर्धारित समय से एक घण्टा पूर्व ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए और सबसे पहले 10 महिला लाभार्थियों में मानसी पत्नि गोरख , मानती पत्नी बनारसी हाताबेला हरैया,इसरावती,उर्मिला,राजमती शाहाबाद,सुशीला मनसफ गढ,बरसाती बेलासपुर, ज्ञानमती बेलासपुर टोला पृथ्वीपुर, आरती व सुनीता बेलासपुर को पैकेट वितरण किया। इसके अतिरिक्त लगभग 500 अन्य लाभार्थियों को भी राहत पैकेट का वितरण किया गया
इसके बाद बाढ़ पीड़ितों को संबोधित करते हुए . मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बाढ़ से लगभग डेढ़ दर्जन जनपद प्रभावित हैं, जिसमें महराजगंज भी है। मैंने स्वयं फरेंदा और सदर का हवाई सर्वेक्षण कर क्षति का अवलोकन किया है । शासन-प्रशासन द्वारा युद्धस्तर पर राहत कार्यों में लगे हैं जिसमें मा. वित्त राज्य मंत्री श्री पंकज चौधरी समेत जनपद के सभी जनप्रतिनिधि प्रशासन का मार्गदर्शन और सहयोग कर रहे हैं।
बाढ़ पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए मा. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की मंशा है कि सभी बाढ़ पीड़ितों को राहत मिले और इसी मंशा के अनुरूप जनपद में बाढ़ की विभीषिका को कम करने के लिये शासन द्वारा जनपद में 30 परियोजनाओं को शुरू भी किया गया। इन परियोजनाओं में 9 पूर्ण हो चुकी हैं, जबकि शेष पर युद्धस्तर पर कार्य चल रहा है।
मा. मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ से निपटने के लिए शासन द्वारा प्रशासन को पर्याप्त धनराशि और संसाधन मुहैया करवाये गये हैं। जनपद में एनडीआर एफ व एसडीआरफ की टीमें भी लगाई गयीं हैं, जो बाढ में फसे को सिर्फ लोगों निकाल रही हैं, और पीड़ित परिवारों तक जरूरी सहायता भी पहुंचा रही हैं।
हमने प्रशासन को सख्त निर्देश दिए हैं कि बाढ़ पीड़ितों तक जरूरी वस्तुओं से युक्त राहत पैकेट का वितरण किया जाए, जिसमें 10 किलो चावल, 10 किलो आटा, 10 किलो आलू, 2 किलो दाल, लाई, चना, रिफाइंड, मसाला समेत रोजमर्रा की जरूरी चीजें मौजूद हों। उन्होंने कहा कि मैंने यह भी निर्देश दिया है कि ग्राम-स्तर पर नोडल अधिकारी की नियुक्ति कर राहत सामग्री का वितरण किया जाए।