You are currently viewing मण्डलायुक्त ने जनपद कौशाम्बी में मण्डल के धान खरीद की प्रगति की समीक्षा की

मण्डलायुक्त ने जनपद कौशाम्बी में मण्डल के धान खरीद की प्रगति की समीक्षा की
सुघर सिंह राजपूत
कौशाम्बी लक्ष्य के सापेक्ष अनिवार्य रूप से धान खरीद हो सुनिश्चित
धान क्रय केन्द्रों पर धान की बिक्री में किसानों को किसी भी प्रकार की न हो समस्या
धान क्रय केन्द्रों का भ्रमण कर नियमित रूप से होता रहे अनुश्रवण-मण्डलायुक्त
24 नवम्बर, 2020 प्रयागराज।
मण्डलायुक्त श्री आर रमेश कुमार की अध्यक्षता में जनपद कौशाम्बी के कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में मण्डलीय धान खरीद की प्रगति के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में मण्डलायुक्त ने मण्डल के सभी अपर जिलाधिकारियों एवं डिप्टी आरएमओ को लक्ष्य के सापेक्ष अनिवार्य रूप से धान खरीद सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने सभी अपर जिलाधिकारियों एवं उप जिलाधिकारियों को निरन्तर भ्रमणशील रहकर धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण करते रहने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि सभी धान क्रय केन्द्रों के लिए निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष खरीद अनिवार्य रूप से सुनिश्चित होती रहे। मण्डलायुक्त ने कहा कि किसानों को धान की बिक्री करने में किसी भी प्रकार की परेशानी नही होनी चाहिए। मण्डलीय समीक्षा में जनपद कौशाम्बी के धान खरीद के बारे में बताया गया कि यहां पर कुल 37 क्रय केन्द्र है। इसी तरह से फतेहपुर में कुल 74 क्रय केन्द्र, प्रतापगढ़ में 51 क्रय केन्द्र एवं प्रयागराज में 140 क्रय केन्द्र बनाये गये है।
मण्डलायुक्त ने सभी अपर जिलाधिकारियों एवं डिप्टी आरएमओं को निर्देशित करते हुए कहा कि जिन धान क्रय केन्द्रों की प्रगति धीमी हो वहां पर निरन्तर भ्रमणशील रहकर धान खरीद में तेजी लाते हुए लक्ष्य को पूर्ण करें। मण्डलायुक्त ने क्रय एजेन्सियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि धान खरीद में किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदाशीनता क्षम्य नहंी है। उन्होंने कहा है कि समीक्षा में यदि किसी भी क्रय केन्द्र की प्रगति लक्ष्य के सापेक्ष कम पायी गयी तो संबंधित क्रय केन्द्र प्रभारी एवं प्रबन्धक जिम्मेदार होंगे, साथ ही साथ डिप्टी आरएमओ भी जिम्मेदार होंगे। मण्डलायुक्त ने मण्डल के सभी अपर जिलाधिकारियों को क्रय केन्द्रों का भ्रमण कर स्वयं अनुश्रवण करने एवं केन्द्रों पर लेखपालों की भी ड्यूटी लगाये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने सम्भागीय खाद्य नियन्त्रक को भी स्वयं धान खरीद का अनुश्रवण करने का निर्देश दिया हेै।
मण्डलायुक्त ने धान खरीद के अलावा 50 करोड़ रूपये की लागत से ऊपर की परियोजनाओं की भी समीक्षा करते हुए गुणवत्ता के साथ कार्यो में तेजी लाये जाने का निर्देश दिया है। इसी तरह से उन्होंने स्वामित्व योजना की भी समीक्षा की। अंत में जिलाधिकारी कौशाम्बी श्री अमित कुमार सिंह ने मण्डलायुक्त को आश्वस्त करते हुए कहा है कि दिये गये निर्देशों का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करते हुए कार्यो में और तेजी लायी जायेगी। इस अवसर पर अपर आयुक्त श्री भगवान शरण, आरएफसी, मण्डल के सभी जनपदों के अपर जिलाधिकारीगणों के अलावा डिप्टी आरएमओ एवं अन्य संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।