हक और हलाल की कमाई से ही मस्जिद बने – बाबा उमाकान्त जी महाराज

07.02.2021,अयोध्या,उत्तरप्रदेश*हक और हलाल की कमाई से ही मस्जिद बने – बाबा उमाकान्त जी महाराज की प्रार्थना*वक्त के कामिल मुर्शिद, आला फकीर, सभी रूहों को निजात मिलने का रास्ता बताने वाले बाबा उमाकान्त जी महाराज ने 7 मार्च 2021 को अयोध्या की पाक नगरी में रूहानी पैगाम सुनाते हुए बताया कि देखो हक और हलाल की कमाई ही मस्जिद में लगे। मस्जिद पूजा-इबादत की जगह है। *बाबा उमाककान्त जी महाराज जी की अपील- **मंदिर और मस्जिद लोगों को मुद्दा नहीं बनाना चाहिये*महाराज जी कहा कि मस्जिद और मंदिर लोगों को मुद्दा नहीं बनाना चाहिए। मस्जिद में बैठकर के खुदा की सच्ची इबादत करनी चाहिए।*जिस्मानी मानव मस्जिद में ही खुदा का दीदार जीते जी होता है*महाराज जी ने बताया कि वैसे तो आप समझो कि इस जिस्मानी मंदिर में ही खुदा का दीदार होता है। जब चेतन से चेतन की पूजा करते हैं तभी वह चेतन मिलता है लेकिन जगह बन रही है। इबादत की बने, उसके लिए हमारी शुभकामना है ।*हम भी चाहते हैं कि मस्जिद बन जाये*महाराज जी ने कहा कि हम यह भी चाहते हैं कि मस्जिद बन जाये और उसमें भी नेक कमाई, हक-हलाल की कमाई ही लगे।*जब आप की मस्जिद बनने लगेगी तो यहां पर भी हम लोगों को निशुल्क भोजन कराएंगे*महाराज जी ने कहा कि और हमारे लिए जो भी सहयोग होगा, जैसे हम यहां कर रहे हैं, अगर आप हमको आदेश दोगे, जब आप की मस्जिद बनने लगेगी वहां भी हम लोगों को भोजन निशुल्क खिलाएंगे। हम प्रेमियों से कहेंगे कि वहां पर भी भोजन खिलाये,वैसे तो रोटी खिलाना, पानी पिलाना पुण्य का काम होता है। दुख को दूर करना इससे भी ज्यादा पुण्य का काम होता है। नेक का काम होता है। हम लोगों को सिखाते हैं और हम भी इस चीज को करना चाहते हैं।।।जयगुरुदेव।।परम सन्त बाबा उमाकान्त जी।।महाराज आश्रम उज्जैन।।मध्यप्रदेश।।भारत।।