उद्यान विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर मुख्य विकास अधिकारी को सौंपा ज्ञापन।

समर्थ किसान पार्टी ने उद्यान विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर मुख्य विकास अधिकारी को ज्ञापन सौंपा है। पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रेम चन्द्र केसरवानी ने पार्टी के कई कार्यकर्ताओं के साथ मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय में प्रदर्शन कर उद्यान विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार की निष्पक्ष जांच एवं दोषियों पर उचित कार्यवाही करने की मांग बुलन्द की। दिए गए ज्ञापन में प्रेम चन्द्र केसरवानी ने मांग किया कि दलित किसानों को केला के टिशू कल्चर वितरण की स्थलीय जांच कराने, पैक हाउस निर्माण की स्थलीय जांच कराने, ड्रिप सिंचाई योजना के लाभार्थियों की सूची और स्थलीय निरीक्षण, स्प्रेयर मशीनों की गुणवत्ता की जांच एवं लाभार्थियों की सूची, राष्ट्रीय औषधि मिशन योजना के लाभार्थियों की सूची एवं जांच, बार बार एक ही नाम या परिवार के सदस्यों को तमाम योजनाओं का लाभ देने, बिचौलियों के माध्यम से विभाग की योजनाओं का वितरण एवं किसानों से अवैध धन वसूली जैसी मांगे शामिल थीं।
इसके पूर्व समर्थ किसान पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रेम चन्द्र केसरवानी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि उद्यान विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार की जांच को लेकर कई बार उच्च अधिकारियों एवं शासन को शिकायत की गई लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई और विभाग में खुलेआम भ्रष्टाचार जारी है। तमाम बाहर के बिचौलिए किसानों को योजनाएं के लाभ दिलाने के नाम पर अवैध वसूली कर रहे हैं और शासन, प्रशाशन चुपचाप सबकुछ देख रहा है। आलम यह है कि शिकायत करने पर उच्च अधिकारी ध्यान नहीं देते जिसके चलते उद्यान विभाग में खुलेआम भ्रष्टाचार जारी है। प्रेम चन्द्र केसरवानी ने उच्च अधिकारियों को ज्ञापन के माध्यम से तत्काल सभी शिकायतों पर जल्द एक टीम गठित कर निष्पक्ष जांच कराने की मांग की है अन्यथा भूख हड़ताल करने की चेतावनी दी है।
इस अवसर पर विशाल साहू, चन्द्र प्रकाश पाण्डेय, राजू सिंह, फूलचंद्र लोधी, अमरेश कुमार समेत कई लोग मौजूद रहे।