विधायक का ब्यान भाजपा,जदयू के समझ से बाहर :- प्रवीण आनंद

यूपी फाइट टाइम्स सहरसा | सहरसा विधानसभा के राजद विधायक अरुण कुमार यादव के द्वारा सुपरस्टार अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर दिए जातिबाद बयान को लेकर कई पार्टियों में सियासी घमासान मच गया है।जिसको लेकर पार्टी के राजद नेता सह पूर्व जिला पार्षद प्रवीण आनंद ने सियासी घमासान को लेकर बिरोधी पार्टी पर पलटवार किया है। प्रवीण आनंद ने कहा है कि राजद परिवार सुशांत सिंह राजपूत के परिवार के साथ खड़ा है ! सुशांत सिंह राजपूत के मौत पर राजद विधायक का यह अपना बयान हो सकता है लेकिन यह सत्य है कि तेजस्वी यादव प्रतिपक्ष के नेता के दबाव में राजद परिवार के दबाव में नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार को इसकी सीबीआई जांच के लिए लिखा ! यह देन राजद परिवार की है सुशांत सिंह मौत पर जो राजद विधायक ने अपना बयान दिया उस बयान को तोड़ मरोड़ कर लोगों के बीच रखा गया है ! विधायक जी कहना है कि राजपूत निडर व साहसी होता है राजपूत महाराणा प्रताप के वंशज है सुशांत सिंह गले में फाँसी क्यों लगाएगा उनकी हत्या हुई है वे राजपूत समाज के लिए फाँसी नहीं लगा सकता है ये ब्यान साबित करती है कि सुशांत की हत्या हुई है। भाजपा, जदयू के समझ से बाहर है जो इस प्रकार की राजनीतिक कर रहे हैं।निश्चित तौर पर आज अगर सीबीआई की जांच हो रही है तो एक दबाव पर हो रही है और वह दबाव राजद परिवार का है तेजस्वी जी का है आज के तारीख में यह भी बात सही है कि जो आज नीतीश कुमार है वह सवर्ण विरोधी है आज अगर आनंद मोहन जी जेल में हैं तो यह दिन यह देश जो है वह नीतीश कुमार का देन है ! नीतीश कुमार चाहते तो आनंद मोहन जी जेल से बाहर आ सकतें हैं लेकिन नितीश कुमार नहीं चाहतें हैं ! वर्तमान समय में सुशांत सिंह की हत्या हुई है इसकी सीबीआई जांच हो रही है ! सब कुछ पर्दा पर आ रहा है ! साथ ही उन्होंने कहा कि राजद परिवार सवर्ण समाज के साथ है और नीतीश कुमार ने अगड़ा पिछड़ा का भेद उत्पन्न करके समाज में नफरत फैलाने का काम किया है ,राजद परिवार सभी को समान रूप से सम्मान दिया है ! राजद परिवार सुशांत सिंह राजपूत के परिवार के साथ है पूर्व सांसद व प्रसिद्ध साहित्यकार श्री आनन्द मोहन जी के साथ न्याय हो इसके पक्ष में साथ है ! नीतीश कुमार राजपूत समाज के साथ खड़ा है तो आनंद मोहन जी को जेल से निकाले यह अधिकार राज्य सरकार को प्राप्त है लेकिन नीतीश कुमार ऐसा नहीं करेंगे ! महा गठबंधन की सरकार बनती है तो आनंद मोहन जी बाहर जरूर आएंगे ! नीतीश कुमार ने विधायक अनंत सिंह के साथ भी यही किया जबकि अनंत सिंह गरीब असहाय लोंगों के मददगार है ! और राजद इस बार के चुनाव में सवर्ण समाज महागठबंधन के पक्ष में है।