नौतनवा:नगर पालिका द्वारा वेतन ना मिल पाना बहुत ही चिंताजनक विषय-श्रवण कुमार

नौतनवा/महराजगंज। उत्तर प्रदेश सफाई कर्मचारी संघ के बैनर तले नगर पालिका परिषद नौतनवा के कर्मचारियों ने शुक्रवार को जलकल परिसर में एक आवश्यक बैठक किया। इस दौरान कर्मचारियों ने बताया कि हम सभी लोग इस कोरोना महामारी में जहां अपने नागरिकों की सुरक्षा में व नगर की साफ सफाई में लगे हुए हैं और अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना के मरीजों के वहां साफ-सफाई एवं दवा का छिड़काव निरंतर किया जा रहा है। सरकार के निर्देश पर लगातार स्वच्छता अभियान भी चलाया जा रहा है। ऐसे में हम कर्मचारियों का जुलाई माह का वेतन रोक दिया गया है जबकि अगस्त माह के वेतन से 35 % नगर पालिका प्रशासन द्वारा काट कर देने की बात की जा रही है। ऐसे में कर्मचारी बहुत ही भयभीत व डरे हुए हैं और बहुत ही आक्रोशित हैं। उनका कहना है कि सरकार ने यह आदेश किया है कि इस कोरोना महामारी मे कर्मचारियों को हर सुविधा उपलब्ध कराई जाए और उन्हें समय से वेतन दिया जाए। नगर पालिका प्रशासन द्वारा पूछे जाने पर शासनादेश का हवाला देकर यह कहा जाता है कि जब शासन से पैसा नहीं आ रहा है तो हम कहां से दें। अब सभी कर्मचारी भुखमरी के कगार पर हैं और सभी कर्मचारी बैठक कर नगर पालिका प्रशासन को 5 सितंबर 2020 तक का समय दिया गया है। उसके बाद कर्मचारी मजबूर होकर अग्रिम कार्यवाही को बाध्य होंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी नगर पालिका प्रशासन की होगी। बैठक में मौजूद कर्मचारी संघ के जिला महामंत्री श्रवण कुमार से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि कर्मचारी ब्याज पर पैसा लेकर काम चला रहे हैं। ऐसे में नगर पालिका द्वारा वेतन ना मिल पाना बहुत ही चिंताजनक विषय है। इस वक्त बहुत ही दैनिक स्थिति हो चली है इस पर पालिका प्रशासन को सुध लेने की अति आवश्यकता है। बैठक के दौरान शाखा अध्यक्ष जितेंद्र कुमार ल, शाखा उपाध्यक्ष मोहम्मद सफीक, शाखा महामंत्री विनोद कुमार, शाखा मंत्री रामानंद गुप्ता, शाखा लेखक संतोष कुमार, सिराजुद्दीन, ज्ञासुद्दीन, पप्पू, दिलीप कुमार, इमरान अहमद, बेबी देवी, जफीर अहमद सहित सैकड़ों कर्मचारी उपस्थित रहे।

ब्यूरो रिपोर्ट