KAUSHAMBI- जरूरतमंद लाभार्थियों को मिला शत शत प्रतिशत लाभ

जरूरतमंद लाभार्थियों को मिला शत शत प्रतिशत लाभ

डहरई गांव 2020/21मे प्रधान मंत्री आदर्श ग्राम योजना में चयनित
मेराज सेख
सरसवां विकासखंड के डहरई गांव में ग्राम प्रधान द्वारा सरकारी समस्त योजनाओं का जरूरतमंद लाभार्थियों को शत प्रतिशत लाभ दिया जिससे ग्रामीण संतुस्ट और खुश हैं उनका कहना है कि हमारे गांव की प्रधान महिला होने के बाद भी हमारे सुख-दुख में शामिल रहती हैं केंद्र सरकार की वित्त पोषित पंचायत सशक्तिकरण एवं उत्तरदायित्व योजना से जिले के सरसवां विकासखंड का यह डहरई गांव 2020/21मे प्रधान मंत्री आदर्श ग्राम योजना में चयनित हुआ है कौशांबी जनपद के 36 गांवों का चयन इस योजना के तहत किया गया है यहां की ग्राम प्रधान विमला देवी व उनके पति मुननू लाल द्वारा गांव में अपनी जिम्मेदारी किस तरह से निर्वहन किया है इसका जायजा लेने शनिवार को यूपी फाइट टाइम्स समाचार पत्र की टीम डहरई ग्राम सभा में जा कर लिया |सीमित संसाधनों के बावजूद भी ग्राम सभा में कराए गए विकास कार्यों पर नजर डाली गई तो काफी कुछ देखने को मिला| जब हमारी टीम ग्राम प्रधान विकास कार्यों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि विकास कार्यों व किसी भी काम को कड़ी मेहनत और सच्ची लगन से किया जाय तो वह कार्य अवश्य पूरा होता है| जरूरत है इसके लिए हौसले की यह कहना है ग्रामसभा डहरई कि ग्राम प्रधान विमला देवी का|पूर्व में इस ग्राम सभा को स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्राम प्रधान को पुरस्कृत भी किया जा चुका है राज वित्त 14वां वित्त मनरेगा योजना से मिले धन से गांव के विकास को नई दिशा जरूर मिली उधर विमला देवी ग्राम प्रधान के साथ हर कदम साथ निभाने का प्रयास उनके पति मुननू लाल भी करते हैं उन्होंने कहा कि गांव में छोटे-मोटे झगड़े वह पंचायत में ही निपटा देते हैं वहीं ग्रामीणों का कहना है कि हमारे हर दुख सुख में ग्राम प्रधान व उनके पति सदैव शामिल रहते हैं और इनके द्वारा जिस तरह से इस पिछड़ी ग्रामसभा में विकास कार्य कराए गए हैं वह सबके सामने हैं इस ग्रामसभा के अंतर्गत खरौना वह डहरई का पूरा मजरे आते हैं जहां पर विकास के सारे कार्य कराए गए हैं|इस इस वर्ष आवास प्लस योजना के तहत 113 लाभार्थियों का सर्वे कार्य कराया गया है जिनमें 7 लाभार्थियों का चयन होते हैं उनको आवास की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी इससे इस ग्राम सभा के कोई भी गरीब असहाय व्यक्ति बगैर छत के नहीं रहेगा| वही जब प्रधान से पूछा गया कि कोरोना संक्रमण में बाहर से आए प्रवासी मजदूरों के लिए क्या व्यवस्था की गई तो प्रधान ने बताया कि उनके रहने खाने के लिए पूरी व्यवस्था की गई थी और उनके लिए इस लॉकडाउन के कार्यकाल में मनरेगा योजना के तहत काम दिया गया जिससे उनके परिवार का भरण पोषण विचार रूप से चलता रहे इसके चलते प्रवासी लोग प्रधान की काफी प्रशंसा करते नजर आए
क्या कहना है ग्रामीणों का
(1)गांव के दीपक गौतम का कहना है कि हमारे ग्राम प्रधान द्वारा ग्रामीणों के हर दुख सुख में शामिल होना यह हमारे बड़े सौभाग्य की बात है प्रधान द्वारा गांव के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी गई और हर पात्र लाभार्थियों को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाया गयाहै
(2) हमारे ग्राम सभा में शौचालय प्रधानमंत्री आवास नाली खड़ंजा पेयजल व्यवस्था आदि सभी मूलभूत सुविधाओं से विकसित है प्रधान द्वारा लगातार गांव के विकास के लिऐ सदैव तत्पर रहते हैं
राम सिह ग्रामीण
(3) हमारे गांव के विकास में प्रधान द्वारा कराए जा रहे विकास कार्यों में कुछ गांव के अराजक तत्वों द्वारा अवरोध उत्पन्न किया जा रहा है जिससे प्रधान सुचारू रूप से कार नहीं कर पा रहे हैं इस पर जिले के अधिकारियों को संज्ञान में लेकर दोषियों के विरुद्ध कठोर कदम उठाने चाहिए जिससे गांव के विकास में रोड़ा ना बन सके (जीतलाल सरोज)
(4) ग्राम प्रधान द्वारा अपने साडे 4 वर्ष के कार्यकाल में सभी सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों को दिया गया है इसमें किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं किया गया गांव में पानी निकासी वह तालाबों की खुदाई नाली खड़ंजा आदि कार्य भी कराए गए हैं वहीं मनरेगा योजना से प्रवासी मजदूरों को काम भी दिया गया है रामखेलावन