You are currently viewing सुगम आवाजाही हेतु  बने नवीन फ्लाई ओवर/ ओवर ब्रिज – सांसद भागीरथ चौधरी

सादड़ी पाली*राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 पर स्थित पाटन, बान्दरसिन्दरी, दांतरी, मोखमपुरा, सांवरदा, महला गांव पर सुगम आवाजाही हेतु बने नवीन फ्लाई ओवर/ ओवर ब्रिज – सांसद भागीरथ चौधरी**प्रदेश के सबसे व्यस्ततम राजमार्ग खण्ड पर ब्लेक स्पॉट दूर करें ताकि यातायात सुगम हो और सम्बन्धित क्षेत्र के ग्रामीण सुरक्षित हो।* *सांसद श्री चौधरी ने जनता की मांग पर केन्द्रीय सडक मंत्री नितिन गडकरी को लिखा पत्र रखी मांग।*सांसद भागीरथ चौधरी ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 पर स्थित विभिन्न ब्लेक स्पॉट्स पर नवीन फ्लाई ओवर/ ओवर ब्रिज का निर्माण कर आए दिन होने वाली दुर्घटनाओं से आम जन और ग्रामीणों को राहत दिलाने हेतु केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को पत्र लिख आग्रह किया कि अजमेर संसदीय क्षेत्र में स्थित आवागमन के प्रमुख सड़क मार्ग किशनगढ से जयपुर के मध्य राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 पर निर्मित सिक्सलेन मार्ग पर आए दिन सड़क दुर्घटना के चलते आम जन को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, उक्त राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 के इस किशनगढ जयपुर खण्ड पर स्थित पाटन, बान्दरसिन्दरी, दांतरी, मोखमपुरा, सावरंदा, महला गांव में वाशिंदों को इस राजमार्ग को आर पार कर आवा जाही करने मंे अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा ह, वहीं राजमार्ग पर स्थानीय लोगों की आवाजाही से यातायात भी प्रभावित होता है । जब इस सिक्स लेन का निर्माण हुआ था तब दूदू , महला, बगरू आदि स्थानों पर बसी आबाद को ध्यान में रखकर वहां तत्समय ही ओवर ब्रिज का निर्माण कर दिया था लेकिन उक्त स्थानों पर भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर केवल मात्र आवाजाही हेतु इस सिक्स लेन पर केवल मात्र कट बना दिए गए थे जो आज स्थानीय वाशिंदों , राहगीरों, छात्र -छात्राओं, पशुपालकों, किसानों को सुगम आवाजाही हेतु मुसीबत बन गए है। आए दिन इन गांवों एवं कस्बों में इस राष्ट्रीय सड़क मार्ग पर गंभीर दुर्घटनाओं से आमजन में रोष उत्पन्न हो रहा है। *अतः राजमार्ग संख्या 8 के इस किशनगढ, जयपुर खंड पर स्थित पाटन , बांदरसिन्दरी , दांतरी, मोखमपुरा, सावरंदा, महला गांव के वाशिंदों को इस राजमार्ग पर आर पार की सुगम आवाजाही हेतु नवीन फ्लाई ओवर/ ओवर ब्रिज/ आरिवाल पुलिया निर्माण की महत्ती स्वीकृति आगामी बजट वर्ष 2021-22 की विभागीय कार्ययोजनाओं में स्वीकृत करावें।* साथ ही इस हेतु अजमेर, जयपुर, स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग अधिकारियों को प्रस्ताव बनाने हेतु निर्देशित भी करावें।बयूरो रिपोर्ट दवे