हमारी प्रार्थना देश के लिए घातक, आंदोलन, तोड़फोड़, हड़ताल,धरना बाबा उमाकान्त जी महाराज

जयगुरुदेव

हमारी प्रार्थना देश के लिए घातक, आंदोलन, तोड़फोड़, हड़ताल,धरना
बाबा उमाकान्त जी महाराज

Anchor- समाज और विश्वशांति का प्रचार करने वाले उज्जैन के पूज्य संत बाबा उमाकान्त जी महाराज जी ने किसान आंदोलन पर विशेष सन्देश देते हुए प्रार्थना की ये आंदोलन,तोड़फोड़,धरना,घेराव ये सब देश के लिए घातक है। ये दुख की बात है कि किसान जिसे अन्नदाता, जीवन दाता कहा गया वो आज सड़को पर आंदोलन कर रहे है ये देश के लिए ठीक नही है।
देखो आज 9 दिसंबर 2020 को मैं प्रार्थना करना चाहता हूं अपील करना चाहता हूं कि हड़ताल तोड़फोड़ धरना घेराव आंदोलन यह अच्छी चीज नहीं है जैसा कि मैं पहले से बताता चला आ रहा हूं किए
धरना घेराव आंदोलन आग जनी यह देश के लिए बहुत ही घातक है
यह नहीं होना चाहिए इससे सभी लोगों को दूर रहना चाहिए जो लोग इसमें लिप्त हैं करते हैं कराते हैं उनसे देश की जनता को होशियार रहना चाहिए किसान जो अन्नदाता है एक छोटे आदमी मजदूर से लेकर के जो देश में सीमा पर लड़ने वाले, संसद ,में बैठे बड़े बड़े अधिकारियों का पेट भरते हैं लेकिन वह आज सड़कों पर हड़ताल कर रहे आंदोलन कर रहे हैं ऐसा नहीं करना चाहिए आपको अपना सम्मान बनाए रखने के लिए जिद नहीं करना चाहिए
आपको अपना आंदोलन समाप्त कर देना चाहिए
यह मेरी आपसे प्रार्थना है अपील है साथ ही साथ ऐसे राजनीतिज्ञ लोग गलत भावना रखने वाले लोग जो आप इनको प्रोत्साहन देते हो आगे बढ़ाते हो आप से मेरी अपील है कि आप इन को प्रोत्साहन मत दो आप इनको उस काम के लिए उकसाओ मत और जो सत्ता में बैठे लोग होआप इनकी समस्याओं को सुनो*
और जितना भी संभव हो आप इनकी समस्याओं को सुलझाओ देखो बातचीत बहुत हो रही है सरकार की और किसानों की लेकिन समस्याओं का समाधान नहीं हो रहा है तो अब तो मैं यह कहूंगा जितने भी राजनीतिज्ञ लोग हो आप लोग मिलो आपस में बात करो और जितने किसान हो आपस में बात करो और इसको खत्म करने का
आंदोलन को खत्म करने का रास्ता निकालो
नहीं तो यह देश के लिए
घातक सिद्ध होगा देश की जनता के लिए घातक सिद्ध होगा
आप जितने भी लोग सक्रिय हो रहे हो जिनके बल पर सक्रिय हो रहे हो उनकी जरूरत पड़ेगी आपको इनसे अपनी छवि बनाए रखने की जरूरत है प्रेम बनाए रखने की जरूरत है इसलिए कोई आगे और बात ना बढ़े जिसमें जनधन का नुकसान हो ऐसा कोई काम आपको नहीं करना है जो बुड्ढे लोग मैं देख रहा हूं आप लोग घर छोड़ कर के आ गए ठंडी में यहां पड़े हुए हो आप इन नौजवानों के हाथ में यह जो बागडोर है अपने हड़ताल की इनके हाथ मे कभी न जाने दो नहीं तो इनका खून तेज होता है यह आपको बदनाम कर देंगे कलंकित कर देंगे

  • कोई ऐसी घटनाएं घट जाएंगी
    जगह-जगह पर कुछ हो जाए जिससे आप की छवि खराब हो जाएगी हम तो यही प्रार्थना करते हैं कि जितने भी लोग इस आंदोलन को चलाने में मदद कर रहे हो जो आप चला रहे हो जो सत्ता में बैठे हो आप सब लोग अपनी छवि बनाए रखने के लिए देश हित के लिए जनता के हित के लिए जन धन हानि को बचाने के लिए
    आप सब लोग अब रास्ता निकाल लो
    जयगुरुदेव