जिले में नहीं देखेंगे पुलिस के लोगों लगी गाड़ियां, एडीजी प्रेम प्रकाश

कौशांबी। प्रयागराज से चलकर कौशांबी जिले के निरीक्षण पर निकले एडीजी प्रेम प्रकाश बुधवार की रात कौशांबी पहुंचे। ओसा स्थित एक गेस्ट हाउस में रात्रि विश्राम करने के बाद एडीजी गुरुवार की सुबह पुलिस कार्यालय के निरीक्षण के लिए निकल पड़े। पुलिस कार्यालय के निरीक्षण के दौरान, कार्यालय के अकाउंटेंट को निलंबित करते हुए मंझनपुर कोतवाली निरीक्षक पर निकल पड़े। कोतवाली पहुंचने पर एडीजी ने ड्यूटी पर लगी महिला आरक्षी से कोविड-19 की देखरेख के लिए वहां पर रखें ऑक्सीमीटर लगाने का निर्देश दिया जिस पर महिला आरक्षण उस ऑक्सीमीटर को नहीं चला सकती जिसके चलते कोविड-19 की लापरवाही मानते हुए कोतवाल मनीष पांडे को लाइन हाजिर कर दिया गया। इसके बाद एडीजी ने कोतवाली के पत्रों का निरीक्षण किया जिसमें ढेर सारी खामियां मिली जिसके चलते वहां पर मौजूद दो दरोगा व एक दीवान को निलंबित कर दिया गया। एडीजी प्रेम प्रकाश कौशांबी इस दौरे से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस कार्यालय के निरीक्षण के दौरान एडीजी प्रेम प्रकाश ने ट्रैफिक इंस्पेक्टर प्रवीण त्रिपाठी को बिना नंबर की लगी गाड़ियां सीज करने का निर्देश देते हुए 3 दिन के अंदर पुलिस कि लोगों लगी गाड़ियों पर कार्रवाई करने का निर्देश जारी किया है। अब जिले में पुलिस की लगी लोगों गाड़ियां नहीं दिखेंगी