You are currently viewing जनपद में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के कुल 800 लाभार्थियों को आवास की चाबी की गयी वितरित

जनपद में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के कुल 800 लाभार्थियों को आवास की चाबी की गयी वितरित
कौशाम्बी प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) एवं मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत 5.51 लाख लाभार्थियों को रूपये 6637.72 करोड़ की लागत से निर्मित आवासों की चाबी वितरित एवं लाभार्थियों से संवाद किया गया। इस कार्यक्रम का जनपद में कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में आयोजित कार्यक्रम में सजीव प्रसारण किया गया, जिसमें उपस्थित लाभार्थियों द्वारा मुख्यमंत्री जी के सम्बोधन को सुना गया। विधायक मंझनपुर लाल बहादुर एवं जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा विकास खण्ड मंझनपुर के अन्तर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 75 लाभार्थियों एवं मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 25 लाभार्थियों को आवास की चाबी वितरित की गयी। इसी प्रकार जनपद के अन्य प्रत्येक विकास खण्ड में जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 75 लाभार्थियों एवं मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 25 लाभार्थियों को आवास की चाबी वितरित की गयी। इस प्रकार जनपद में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 600 लाभार्थियों को एवं मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के 200 लाभार्थियों को आवास की चाबी वितरित की गयी। आवास की चाबी पाकर लाभार्थियों ने कहा कि साकार हुआ सपना, घर हुआ अपना।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विधायक मंझनपुर ने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री देश एवं प्रदेश को विकास के पथ पर निरन्तर आगे ले जा रहे हैं। गरीबों के कल्याण के लिए अनेक योजनायें धरातल पर चल रही हैं। उन्होने लाभार्थियों से कहा कि आप लोगों को जो आवास का लाभ मिल रहा है, उसे किसी बिचौलिये ने नहीं बल्कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी ने देने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी का सपना है कि 2022 तक सभी पात्र लाभार्थियों को आवास की सुविधा उपलब्ध हो। उन्होने जिला प्रशासन से कहा कि जो पात्र लाभार्थी छूट गये हैं, सर्वे कराकर उन्हें भी लाभान्वित किया जाय। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार के अथक प्रयास से सभी पात्र लाभार्थियों को आवास, शौचालय, विद्युत कनेक्शन, निःशुल्क गैस कनेक्शन एवं पेयजल की सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। उन्होने कहा कि निःशुल्क राशन का वितरण किया जा रहा है। सभी पात्र व्यक्तियों के राशन कार्ड बनाये जा रहे हैं। युवाओं को प्रशिक्षण एवं किट देकर स्वरोजगार की सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। उन्होंने कहा कि बिना भेद-भाव एवं पारदर्शी तरीके से युवाओं को सरकारी नौकरी मिल रही है, सरकार ने सभी वर्गो एंव सभी क्षेत्रों में विकास के लिए अनेक योजनायें संचालित की हैं। उन्होंने लाभार्थियों से सरकार द्वारा संचालित अन्य योजनाओं का लाभ उठाने एवं अपने आस-पास के लोगों को भी जागरूक करने की अपेक्षा की है।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में तेज वर्षा एवं दैवीय आपदा के कारण लोगों के घर गिरे हैं, उन सभी लोगों को दैवीय आपदा के अन्तर्गत आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी जा रही है एवं जिनके घर गिरे है, उन सभी का सर्वे कराकर मुख्यमंत्री आवास योजना से लाभान्वित किये जाने की कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाआें के तहत धनराशि सीधे लाभार्थी के खाते में हस्तान्तरित की जाती है। उन्होने कहा कि जो भी लोग विभिन्न योजनाओं के तहत पात्र हैं, उन्हें योजना का लाभ अवश्य मिलेगा। उन्होने लाभार्थियों से कहा कि कोई भी व्यक्ति योजना का लाभ दिलाने हेतु पैसे की मांग करता है, तो उसकी सूचना उन्हे अवश्य दें, ताकि उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जा सके। उन्होंने लाभार्थियों से कहा कि शासन द्वारा संचालित अन्य विभिन्न योजनाओं का भी लाभ उठायें।
कार्यक्रम में ब्लॉक प्रमुख मंझनपुर सरला राय, मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी, परियोजना निदेशक सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी एवं लाभार्थीगण उपस्थित रहे।

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला पर्यावरण समिति, गंगा समिति एवं वन बन्दोबस्त समिति की बैठक संपन्न
कौशाम्बी जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में जिला पर्यावरण समिति, गंगा समिति एवं वन बन्दोबस्त समिति की बैठक संपन्न हुई।
बैठक में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे सौंपे गये दायित्यों का जिम्मेदारी पूर्वक निर्वहन करें। उन्होंने बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने उ0प्र0 प्रदूषण नियन्त्रण विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे सूचनायें पोर्टल पर समय से अपलोड कराना सुनिश्चित करें। सूचनायें अपलोड कराये जाने में लापरवाही न की जाय।
बैठक में बताया गया कि कड़ाधाम गंगा नदी के किनारे कूड़ा फेंका जा रहा है, जिस पर जिलाधिकारी ने प्रदूषण नियन्त्रण के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे गंगा के किनारों का निरीक्षण कर कूड़ा फेकने वालों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध जुर्माना आदि की कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। उन्होने डी0एफ0ओ0 को भी निर्देशित किया कि वे गंगा नदी के किनारे कूड़ा एवं गंदगी फैलाने वालों के विरूद्ध नोटिस जारी कर कार्यवाही सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ई0ओ0 कड़ाधाम के माध्यम से प्रतिबन्धित पॉलिथीन/प्लास्टिक की बिक्री करने वालों के विरूद्ध अभियान चलाकर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाय।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।