प्रयागराज: भारतीय किसान मजदूर सभा की रैली निकालकर भारत बंद का समर्थन किया काले कानून को वापस लेने की मांग

प्रयागराज: भारतीय किसान मजदूर सभा की रैली निकालकर भारत बंद का समर्थन किया काले कानून को वापस लेने की मांग
…….

मोहम्मद अली सिद्दीकी
…….
अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के आवाह्न पर भारत बंद के दौरान अखिल भारतीय किसान मजदूर सभा के बैनर तले प्रयागराज के रेही सड़वा,अमिलिया तरहार,घूरपुर बाजार में रैली निकाल खेती के तीन नए कानून, 2020 बिजली संसोधन बिल रद्द करने की मांग की।
रैली के दौरान नारे लगाए ,खेती के तीन नए कानून रद्द करो,2020 बिजली संसोधन बिल रद्द करो,ठेका खेती रद्द करो,खेती में बड़ी कम्पनियों पर रोक लगाओ, खाद – बीज, डीजल के दाम आधे करो,आंदोलनरत किसानो पर दर्ज फर्जी मुकदमे वापिस लो,किसानो पर दमन बन्द करो आदि।
रैली के दौरान वक्ताओं ने कहा खेती के तीन नए कानून भारत की पूरी खेती की श्रिंखला को बर्बाद कर देगी।
खेती के तीनों काले कानून बड़े कारपोरेट पक्षधर है किसान विरोधी है।
खेती के तीन नए कानून के विरोध में किसान जब शान्ती पूर्वक विरोध किया तो आर एस एस – भाजपा की नेतृत्व वाली मोदी सरकार ने किसानो पर लाठी बरसाई,ठंढ मे किसानों पर वाटर कैनन इस्तमाल किया,मुकदमे दर्ज किया इससे यह साबित हो रहा है कि ये सरकार किसान विरोधी है कारपोरेट पक्षधर है।
इस मौके पर राजकुमार पथिक,सुरेश निषाद,विनोद निषाद,भीमलाल,रामू निषाद रामतीरथ, मालती बिंद,सावित्री आदि उपस्थित रहे।