You are currently viewing अपनी व्यवहारिकता एवं कार्यकुशलता से प्रवासी राजस्थानी बने मुंबई वासियों के लिए भरोसे की कड़ी : कैलाश चौधरी

गुजरात-महाराष्ट्र प्रवास का चौथा दिन

अपनी व्यवहारिकता एवं कार्यकुशलता से प्रवासी राजस्थानी बने मुंबई वासियों के लिए भरोसे की कड़ी : कैलाश चौधरी

बाड़मेर भाजपा नेताओं के प्रतिनिधिमंडल के साथ केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने महाराष्ट्र के मीरा-भाईंदर एवं मुंबई में प्रवासी मारवाड़ी राजस्थानी समाज से किया संवाद, माया नगरी मुंबई के प्रवासी बंधुओं ने सम्मेलनों में दिखाया उत्साह

भाईंदर-मुंबई / बाड़मेर-जैसलमेर

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री तथा बाड़मेर जैसलमेर सांसद कैलाश चौधरी चार दिवसीय गुजरात एवं महाराष्ट्र राज्य में प्रवासी सम्मेलन एवं स्नेह मिलन कार्यक्रमों में भाग ले रहे हैं। इसी कड़ी में कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी पिछले तीन दिन तक गुजरात के विभिन्न शहरों में कई कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद सोमवार को महाराष्ट्र के लिए मुंबई रवाना हुए। रास्ते में जगह जगह पर भाजपा पदाधिकारियों एवं प्रवासी कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी का स्वागत एवं अभिनंदन किया। मीरा- भाईंदर और मुंबई पहुंचने पर माया नगरी के मारवाड़ी राजस्थानी प्रवासियों और स्थानीय भाजपा पदाधिकारियों ने केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी का स्थानीय मराठी परंपराओं के अनुसार भव्य स्वागत एवं अभिनंदन किया।

मुंबई की लाइफ लाइन बने मारवाड़ी राजस्थानी : प्रवासी सम्मेलनों को संबोधित करते हुए केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि राजस्थानी व्यक्ति में बिजनेस के अलावा अन्य व्यवहारिक गुण भी कूट-कूट कर भरे होते हैं। वह अपने व्यवहार से किसी का मन दुखी नहीं करता है। वह सामाजिक समरसता से काम करता है और समाज को आगे ले जाने का सपना देखता है। गुजरात और महाराष्ट्र में प्रवासी राजस्थानी समाज के लोगों ने अपने सांस्कृतिक, नैतिक, ऐतिहासिक, पारंपरिक मूल्यों से समृद्धि की राह पकड़ी है। समाज में शिक्षा, चिकित्सा व धार्मिक कार्यों में अपनी ओर से परमार्थ की भावना से काम किया है। कैलाश चौधरी ने कहा कि दशकों से बसे राजस्थानी लोगों के लिए मुंबई अब ऐसी कर्मभूमि है, जहां वे अपने तमाम पारंपरिक उत्सव अपनों के साथ मनाते हैं। मुंबई में लाखों की संख्या में बसे राजस्थानी प्रवासी बाशिंदों की छवि कुछ ऐसी है कि हर क्षेत्र में इनकी धाक है। प्रवासी राजस्थानी समाज अब मुंबई के स्थानीय निवासियों के लिए भरोसे की कड़ी बन गए हैं।

हर संकट और खुशी में साथ खड़ा रहूंगा : केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि मेरे लिए मेरे सभी प्रवासी राजस्थानी भाई-बहन हैं। मुझे अपने प्रवासी राजस्थानियों पर गर्व है कि उन्होंने मुंबई की अर्थव्यवस्था व समाजिक समरसता में जबरदस्त योगदान दिया है। इनके लिए जब भी कोई तकलीफ और समस्या होती है, मैं उसके साथ खड़ा होता हूं। मेरे लिए जिला, जाति और भाषा मायने नहीं रखती। कैलाश चौधरी ने कहा कि मैंने कोशिश की है कि प्रवासी राजस्थानी समाज के हर वर्ग के लोगों की जब भी कोई समस्या मेरे सामने आए, तो मैं उनकी समस्या का तन-मन-धन से हल कर सकूं। कोराना महामारी के वक्त समस्या आई हो या अन्य कोई संकट, हमने सभी का साथ देने की कोशिश की है।

साथ में रहा बाड़मेर भाजपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल : गुजरात के विभिन्न शहरों में आयोजित केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी के स्वागत-सम्मान कार्यक्रमों में गुजरात के स्थानीय भाजपा पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों, प्रवासी व सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ बाड़मेर के प्रतिनिधिमंडल की ओर से पूर्व मंत्री अमराराम चौधरी, सिवाना विधायक हमीर सिंह भायल, पूर्व विधायक शिव श्री जालम सिंह रावलोत, भाजपा प्रदेश मंत्री के के विश्नोई, भाजपा जिला महामंत्री बालाराम मूंढ और स्वरूप सिंह खारा, समाजसेवी डॉ. मेघाराम गढवीर, सोहन सिंह भायल, भाजपा ओबीसी मोर्चा बालोतरा के अध्यक्ष इंदाराम चौधरी, जिला परिषद सदस्य हंसाराम प्रजापत, पंचायत समिति सदस्य प्रतिनिधि खेताराम जाखड़ और सरपंच जुगताराम भादू और भाजपा जिला मंत्री खेताराम प्रजापत सहित बाड़मेर के जनप्रतिनिधि एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।