You are currently viewing विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न

चित्रकूट
व्यूरो चीफ बालकृष्ण विश्वकर्मा

विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न

चित्रकूट-जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई बैठक में अधीक्षण अभियंता विद्युत, अधिशासी अभियंता सिंचाई निर्माण खंड, सिंचाई, अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण सेवा, श्रम प्रवर्तन अधिकारी के उपस्थित न होने पर जिलाधिकारी ने इनसे जवाब तलब करने के निर्देश दिए।उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि जो जनहित की योजनाएं संचालित है उनमें अधिक से अधिक लोगों को प्राथमिकता के आधार पर लाभ दिलाया जाए।निवेश मित्र पोर्टल की स्थिति पर सुधार करें इसकी लगातार शासन से समीक्षा की जा रही है श्रम प्रवर्तन विभाग की योजनाओं पर कहा कि श्रमिकों को अधिक से अधिक लाभान्वित कराया जाए मनरेगा के शत-प्रतिशत श्रमिकों का पंजीकरण अभियान चलाकर कराएं उन्होंने कहा कि तहसील दिवस में जन कल्याणकारी योजनाओं से संबंधित विभाग कैंप लगाएं और अधिक से अधिक योजनाओं में लाभार्थियों का पंजीकरण कराएं उसमें सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन अवश्य सुनिश्चित किया जाए।उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि जो शिक्षक विद्यालय नहीं जा रहे हैं उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही कराएं स्वेटर का वितरण समय से कराया जाए।मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना पर कहा कि 27 नवंबर 2020 को विवाह कार्यक्रम सभी विकासखंड स्तर पर आयोजित कराया जाए उसमें समस्त खंड विकास अधिकारी, अधिशासी अधिकारी सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर लें पात्र लाभार्थियों को अधिक से अधिक इस योजना का लाभ दिलाया जाए। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि मनरेगा के कार्यो में जो विभाग अपने लक्ष्य को पूरा नहीं किया है उनसे जवाब तलब किया जाए। आजीविका मिशन पर कहा कि स्वयं सहायता समूहों को बढ़ाया जाए अब शासन द्वारा विभिन्न योजनाओं का संचालन स्वयं सहायता समूह के माध्यम से कराया जा रहा है।उन्होंने सेतुओ के निर्माण पर परियोजना प्रबंधक सेतु निगम को निर्देश दिए कि जो शासन से समय सीमा निर्धारित की गई है उसी के अनुसार कार्यो को तेजी से करा कर पूर्ण कराएं मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि तकनीकी टीम का गठन करके निरीक्षण कर इनकी गुणवत्ता की जांच अवश्य कराई जाए।अवैध खनन पर खनिज अधिकारी
को निर्देश दिए कि खनन व प्रवर्तन पर कार्यवाही करें जो टीम गठित की गई है अभियान चलाकर छापेमारी की कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाए।नई सड़कों का निर्माण व सुंदरीकरण के कार्य पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कार्यों पर तेजी लाएं जो मरम्मती करण के कार्य कराए जा रहे हैं उन्हें तत्काल पूर्ण करा दें जनपद में किसी भी सड़क पर गड्ढा नहीं मिलना चाहिए इसका आप लोग विशेष ध्यान दें।जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिए कि ग्राम पंचायतों में निर्देश दे कि विद्यालयों के ऑपरेशन कायाकल्प पर ही ग्राम पंचायत की धनराशि खर्च की जाए अन्य किसी कार्य में न करें जिन कार्यों के लिए धनराशि कम पड़ रही है तो मनरेगा कन्वर्जेंस से कार्य कराए जाएं जो भी कार्य कराएं व शासन की मंशा के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण होना चाहिए।उन्होंने उपजिलाधिकारी तथा खंड विकास अधिकारियों से कहा कि प्रत्येक सप्ताह प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों का निरंतर रेंडम चेकिंग अवश्य करें मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर चिकित्सक व स्टाफ उपस्थित रहकर स्वास्थ्य सेवाएं दे अभियान चलाकर गोल्डन कार्ड बनाकर वितरण सुनिश्चित कराएं जो हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर पूर्ण नहीं है उन्हें पूर्ण कराएं तथा जो पूर्ण हो गए हैं उनमें स्टाफ की तैनाती करके स्वास्थ्य सेवाएं लागू की जाए। जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि प्रत्येक गौशाला का पशु चिकित्साधिकारी भ्रमण करके गोवंश के स्वास्थ्य का परीक्षण अवश्य करें इसके लिए एक रोस्टर भी बनाया जाए साप्ताहिक समीक्षा में बधियाकरण, टीकाकरण, गौशाला के पशु स्वास्थ्य गणना, टैगिंग की रिपोर्ट उपलब्ध कराएं समय से गोवंश के भरण-पोषण की पत्रावलियो का भुगतान कराएं दुधारू पशुओं को चिन्हित करके कुपोषित बच्चों के परिवारों को दिया जाए अपर जिलाधिकारी से कहा कि जो व्यक्ति अपने व्यक्तिगत पशुओं को छोड़ रहे हैं तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही कराई जाए। मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि विकासखंड वार लक्ष्य को देकर सहभागिता योजना को बढ़ाया जाए तथा उन लाभार्थियों को सभी शासकीय योजनाओं का लाभ भी दिया जाए।
जिलाधिकारी ने ओडीओपी, कौशल विकास, खाद्य सुरक्षा, मत्स्य पालन, औद्यानिक मिशन, सोलर पंप, किसान सम्मान निधि, फसल बीमा, मृदा परीक्षण, बीज वितरण, पेंशन योजनाएं, पोषण अभियान, निराश्रित गोवंश, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, कन्या सुमंगला योजना, वर्मी कंपोस्ट, पशु टीकाकरण, सामाजिक वनीकरण, कर करेत्तर, जननी सुरक्षा योजना, चिकित्सकों की उपलब्धता, दवाओं की व्यवस्था, गोल्डन कार्ड, परिवार नियोजन, बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, आरबीएसके, एंबुलेंस का संचालन, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, मातृ स्वास्थ्य कार्यक्रम, टीकाकरण, सामुदायिक शौचालय, हैंडपंप रिबोर, पंचायत भवन निर्माण, पेयजल, विद्युत, नगर विकास, आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण व शहर आदि विभिन्न योजनाओं की बिंदुवार समीक्षा की गई।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी,अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय कुमार पांडेय, उपनिदेशक कृषि टी पी शाही सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।