आंगनबाड़ी केंद्रों पर अनिवार्य रूप से रूफटॉप वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य कराया जाए- जिलाधिकारी

व्यूरो चीफ बालकृष्ण विश्वकर्मा

चित्रकूट – जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में पोषण अभियान के क्रियान्वयन एवं अनुश्रवण के संबंध में डिस्ट्रिक्ट कन्वर्जेंस प्लान कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार को निर्देश दिए कि पूरे जनपद के क्षेत्रों में हर गरीब बच्चों, गर्भवती महिलाओं, किशोरियों को शत-प्रतिशत पोषाहार का वितरण हो उसमें नोडल अधिकारी भ्रमण करके सूचना भी उपलब्ध कराएं पूर्व में जो सुपोषित गांव लिए गए थे और उनमें जो कार्य कराए गए हैं वहां की समीक्षा करके यह देखले की कोई कमी तो नहीं है तथा बाल विकास परियोजना अधिकारी व सुपरवाइजर लगातार भ्रमण करके कुपोषित बच्चों की जानकारी करते रहे एवं जो नए सुपोषित गांव लिए गए हैं उसमें जिन विभागों द्वारा कन्वर्जन से कार्य कराया जाना है उसमें संबंधित विभाग तत्काल प्रस्ताव तैयार करा कर एक माह के अंदर कार्यों को पूर्ण कराएं जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें।मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार से कहा कि वजन मशीन जिन आंगनबाड़ी केंद्रों पर नहीं है एक सप्ताह के अंदर तत्काल उपलब्ध कराएं उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों से कहा कि बैठक के पहले सभी बिंदुओं पर समीक्षा करके ही आएं। जिला कार्यक्रम प्रबंधक स्वास्थ्य विभाग आरके करवरिया द्वारा स्वास्थ्य विभाग की गतविधियों की सूचना जिला कार्यक्रम अधिकारी को उपलब्ध न कराए जाने पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि इनसे स्पष्टीकरण लिया जाए। पोषण पुनर्वास केंद्र पर कुपोषित बच्चों को भर्ती कराकर स्वास्थ्य लाभ दिलाया जाए कोई भी बेड खाली नहीं रहना चाहिए बाल विकास परियोजना अधिकारी मानिकपुर को निर्देश दिए कि आपके ब्लॉक में काफी बच्चे कुपोषित हैं लेकिन आप द्वारा कार्य सही से नहीं किया जा रहा जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि बाल विकास परियोजना अधिकारी मानिकपुर का जवाब तलब किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों का तभी वेतन आहरित किया जाए कि किस बाल विकास परियोजना अधिकारी ने माह में कितने निरीक्षण किया प्रतिदिन डायरी भरी जाएगी कहां पर क्या निरीक्षण किया गया फोटोग्राफ्स के साथ सूचना उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र निर्माण जो पूर्ण हो गए हैं उनको तत्काल हैंडोवर कराएं उपायुक्त मनरेगा को निर्देश दिए कि जहां पर जो कमियां है तत्काल पूर्ण करा लिया जाए सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर अनिवार्य रूप से रूफटॉप वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य कराया जाए। जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि जहां पर भूमि विवाद है वहां के संबंधित उप जिलाधिकारियों से संपर्क करके निस्तारण कराया जाए। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी से कहा कि पेयजल, विद्युत, शौचालय जिन आंगनबाड़ी केंद्रों पर नहीं है उनको तत्काल पूर्ण कराएं आंगनबाड़ी केंद्रों के कायाकल्प का भी कार्य कराया जाए जिन ग्राम पंचायतों में धनराशि है वहां पर कार्य योजना में लेकर पहले कराएं। जिला कार्यक्रम अधिकारी से कहा कि सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर किचन गार्डन की भी व्यवस्था करें जहां पर आंगनबाड़ी कार्यकत्री के पद रिक्त हैं उनको भरने की व्यवस्था भी कराया जाए। जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि जिन योजनाओं प्रशासन से जो लक्ष्य निर्धारित किया गया है उसे शत-प्रतिशत पूरा कराएं।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय कुमार पांडेय, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आर के गुप्ता, जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रकाश सिंह सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।