You are currently viewing सभ्य समाज के तौर पर विकास और निर्माण के लिए करनी चाहिए वंचित लोगों की यथासंभव मदद : कैलाश चौधरी

सभ्य समाज के तौर पर विकास और निर्माण के लिए करनी चाहिए वंचित लोगों की यथासंभव मदद : कैलाश चौधरी

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने बालोतरा में माली समाज दिग्दर्शिका-2021 के स्मारिका विमोचन कार्यक्रम एवं सम्मान समारोह में की शिरकत

बालोतरा (बाड़मेर)

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी संसदीय क्षेत्र बाड़मेर जैसलमेर के दौरे पर है। केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने रविवार को बालोतरा में संत शिरोमणि लिखमारामजी शिक्षण संस्थान, माली समाज सर्वोदय सोसायटी द्वारा आयोजित माली समाज दिग्दर्शिका-2021 के स्मारिका विमोचन कार्यक्रम एवं सम्मान समारोह में भाग लिया। कार्यक्रम में स्वामी राघवदास महाराज, स्वामी नृसिंहदास महाराज, राज्यसभा सांसद राजेंद्र गहलोत, राजस्थान रीको के निदेशक सुनील परिहार, पचपदरा विधायक मदन प्रजापत, ज्योतिबा फुले जागृति मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोतीलाल सांखला, बालोतरा पंचायत समिति प्रधान भगवतसिंह, जसोल सरपंच ईश्वरसिंह, नगरपरिषद बालोतरा सभापति श्रीमती सुमित्रा जैन, उपसभापति श्रीमती हेमलता सुंदेशा, बालोतरा भाजपा जिलाध्यक्ष श्री महेश बी.चौहान उपस्थित रहे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार “सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास” के मूलमंत्र के साथ सभी वर्गों के कल्याण के लिए काम कर रही है। कैलाश चौधरी ने कहा कि राष्ट्रहित और समाजहित में हमारे सभी लक्ष्यों को पाने के लिए सबका साथ, सबका विश्वास, सबका विश्वास और हर एक के प्रयास बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। देश को बदलने की जरूरत के साथ हमें नागरिकों के तौर पर और बदलते समय के साथ बदलने की जरूरत है। एक सभ्य समाज के तौर पर हमें अमीर और गरीब के बीच का अंतर कम करने के लिए वंचित लोगों की यथासंभव मदद करनी चाहिए। इसके बाद कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने श्री ब्राह्मणी माताजी मन्दिर, बालोतरा में पूजा अर्चना कर क्षेत्र की प्रगति और खुशहाली की कामना की तथा मंदिर के सेवक जसराज गहलोत से आशीर्वाद प्राप्त किया।

विभिन्न योजनाओं के माध्यम से ओबीसी समाज को लाभ दे रही है मोदी सरकार : कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार ने ओबीसी, एसी और एसटी के लिए बड़ा फैसला लिया है। मोदी सरकार ने इनके लिए पांच बड़े कदम उठाए हैं. केंद्र सरकार के हिस्से में आने वाली मेडिकल एजुकेशन में सीटों को ‘ऑल इंडिया कोटा’ का नाम दिया गया। इन सीटों पर देश के किसी भी राज्य के छात्र दाखिला ले सकते हैं। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि ज़्यादातर राज्य के कॉलेज में स्थानीय छात्रों को तरजीह दी जाती है. वहीं, ऑल इंडिया कोटा में ओबीसी छात्रों को 27% आरक्षण का फैसला किया है। कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्रीमंडल में 27 ओबीसी नेताओं को प्रतिनिधित्व देकर सरकार ने समाज को सम्मान दिया है। साथ ही मोदी सरकार की गरीब कल्याण योजना के तहत मुफ्त अनाज वितरण, किसान सम्मान निधि, आयुष्मान भारत, मुद्रा लोन और अन्य दर्जनों योजनाओं से ओबीसी समाज को सीधा लाभ मिल रहा है।