बाजार बन्द कराकर सड़क पर उतरे किसान, सौंपा ज्ञापन

किसान विधेयक, बेरोजगारी, निजीकरण आदि को लेकर सकिपा का जोरदार प्रदर्शन,

समर्थ किसान पार्टी ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को जिले में जोरदार तरीके से प्रदर्शन किया और किसानों, युवाओं, संविदाकर्मियों समेत प्रवासी मजदूरों एवं सरकारी कर्मचारियों के समर्थन में आवाज बुलंद की। इसी के साथ कई जगह दुकानें बंद कराकर सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया। पार्टी नेता अजय सोनी की अगुवाई में जिले के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जिला प्रशासन कौशांबी द्वारा महमहिम राष्ट्रपति महोदय को एक 5 सूत्रीय ज्ञापन भी भेजा।

पार्टी नेता अजय सोनी ने करीकर्ताओं के साथ सबसे पहले दिन के 11 बजे उदहिन बाजार बन्द कराकर जिला मुख्यालय मंझनपुर कूच किया और डायट परिसर पहुंचकर किसानों, युवाओं को संबोधित किया। अपने संबोधन में अजय सोनी ने केंद्र सरकार द्वारा किसानों के खिलाफ लाए गए किसान अध्यादेश विधेयक का हवाला देते हुए कहा कि केंद्र सरकार पूरी तरह किसानों के साथ छल कर रही है और उद्योगपतियों को मजबूत करने के लिए ऐसा विधेयक लाई है। जिसे किसी भी दशा में स्वीकार नहीं किया जाएगा। सरकार को इस विधेयक को तत्काल वापस लेना चाहिए।

इसके बाद पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर अजय सोनी ने राष्ट्रपति महोदय को संबोधित एक ज्ञापन अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को सौंपा। सौंपे गए ज्ञापन में किसान विधेयक वापस लेने, बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने, निजीकरण बन्द करने, प्रदेश सरकार द्वारा सरकारी नौकरी से 50 वर्ष की आयु से अधिक उम्र के सरकारी कर्मियों को बाहर न करने एवं उन्हें 60 साल तक सरकारी सेवा का पूर्ववत सेवा कार्य प्रदान करने, विदेशों में रह रहे प्रवासी भारतीय लोगों के प्रवासी भारतीय मंत्रालय की तरह एक राज्य से दूसरे राज्यों में रह रहे गरीब मजदूरों एवं कामगारों के लिए अंतरराज्यीय प्रवासी मजदूर एवं कामगार मंत्रालय (गृह) का भारत सरकार द्वारा गठन करने जैसी मांगे शामिल थीं। ताकि दूसरे राज्यों में रह रहे गरीब मजदूरों एवं कामगारों का शोषण एवं उत्पीड़न रोका जा सके।

ज्ञापन स्वीकार करते हुए अतिरिक्त मजिस्ट्रेट ने कहा कि जल्द ही ज्ञापन महामहिम राष्ट्रपति महोदय को भेज दिया जाएगा। इस अवसर पर पार्टी जिलाध्यक्ष प्रेम चन्द्र केसरवानी, जिला उपाध्यक्ष भानु प्रताप सिंह पटेल, जिला महासचिव राजवंत सिंह, युवा जिला अध्यक्ष वेद प्रकाश यादव, जिला सचिव अखिलेश विश्वकर्मा, सत्येन्द्र तिवारी, अवधेश सिंह पटेल, अनंत प्रताप सिंह, अंकित सिंह, मंझनपुर विधान सभा अध्यक्ष पदुम नारायण सोनी, अखिलेश सिंह पटेल, गोविंद मिश्र, परिहार सिंह, विजय सिंह, राजू सिंह, अकील अहमद आदि मौजूद रहे।