समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फूंका चीनी राष्ट्रपति झी चिनपिंग का पुतला

प्रयागराज:-भारत और चीन के बार्डर पर चीनी सैनिकों द्वारा एक अधिकारी और दो सैनिकों को शहीद करने पर लोगों में ज़बरदस्त आक्रोश है।समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अतरसुईया स्थित रानीमण्डी में भारतीय सैनिक़ो की हत्या के खिलाफ उग्र प्रदर्शन करते हुए चीन के राष्ट्रपति झी चिनपिंग के पुतले को जला कर विरोध दर्ज कराया।समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक सभा के निर्वतमान महानगर अध्यक्ष शाहिद प्रधान और महानगर मीडिया प्रभारी सै०मो०अस्करी के नेत्रित्व में सोशल डिस्टेन्स का पालन करते हुए चीनी सैनिकों की कायराना हरकत पर रोष प्रकट करते हुए चीन और उसके राष्ट्रपति झी चिनपिंग मुर्दाबाद का नारा लगाते हुए पुतला दहन किया गया।शाहिद ने देश के प्रधानमंत्री से मांग की के एक के बदले दस सिर और तीन के बदले तीस सिर लाकर देशवासियों के घायल दिल को सुकून पहोँचाएँ।अस्करी ने कहा अब वक़्त आ गया है की झूठे आश्वासन न देकर चीन से सख्ती से पेश आएँ और भारतीय सैनिकों की हत्या का बदला लिया जाए।पुतला दहन के उपरान्त शहीद सैनिकों को दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धान्जलि अर्पित की गई।पुतला दहन और शहीद भारतीय सैनिको के प्रति शोक प्रकट करने विलों में शाहिद अब्बास रिज़वी,सै०मो०अस्करी,संजय श्रीवास्तव,सै०हुसैन मेंहदी,सूफी हसन,युनूस रज़ा,ग़दीर हैदर,अली हैदर,इसरार अन्सारी,लियाक़त अली,आक़िब जावेद खान आदि शामिल थे