You are currently viewing सरकारी अस्पताल मे इंजेक्शन लगाये जाने से महिला के बनी सेप्टिक अस्पताल मे भर्ती पुलिस से शिकायत

सरकारी अस्पताल मे इंजेक्शन लगाये जाने से महिला के बनी सेप्टिक अस्पताल मे भर्ती
पुलिस से शिकायत

रिपोर्ट-सूरज सागर।


आँवला।थानाक्षेत्र विशारतगंज के रहने वाले बुध्दपाल पुत्र मंगली ने थाना विशारतगंज मे शिकायत कर बताया वह 16/09/2021 को अपनी पत्नी लक्ष्मी को प्रसव हेतु सरकारी अस्पताल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मझगवां लाया था जहां रात्रि के समय प्रसव पीड़ा के दौरान उसकी पत्नी के डयूटी पर तैनात प्रसव कराने वाली महिला कर्मचारियों द्वारा इंजेक्शन लगाया गया इंजेक्शन लगाने के बाद से ही उसकी पत्नी के इंजेक्शन लगाने वाली जगह पर रोजाना तेज दर्द होने लगा जिसकी शिकायत उसने व्लाक जाकर की तो उसे डांट फटकार कर भगा दिया गया इंजेक्शन लगाने वाली जगह पर डाक्टरों के मुताबिक सेप्टिक बन गई उसने अपनी पत्नी को एक प्राईवेट अस्पताल मे भर्ती कराया है जहां उसकी पत्नी का इलाज चल रहा है बुध्दपाल का आरोप है कि महिला कर्मचारियों द्वारा उससे 1500 रूपये भी लिये गये और उनके द्वारा लगाये गये इंजेक्शन से उसकी पत्नी के सेप्टिक बन गई जिससे उसको आर्थिक व पत्नी शारिरिक नुकसान होने के साथ -साथ उसकी पत्नी की जान पर बन आई बुध्दपाल ने थानाध्यक्ष विशारतगंज से दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करे जाने की गुहार लगाई है।