मंत्री विजेन्द्र यादव पर लगे गंभीर आरोप,दिल्ली के तर्ज पर होगा कोशी में आंदोलन

मंत्री विजेन्द्र यादव पर लगे गंभीर आरोप,दिल्ली के तर्ज पर होगा कोशी में आंदोलन

यूपी फाइट टाइम्स सहरसा | सन 1985 में तत्कालीन कृषि मंत्री स्वर्गीय रमेश झा जी के द्वारा कोशी के किसानों के हित के लिए छोटे उद्यमियों के विकास के लिए उन्होंने सहरसा प्रमंडल में बिस्कोमान शीत भवन का उन्होंने स्थापना किया था और इस शीत भवन बिस्कोमान से 11 जिले के किसानों और मजदूरों को लाभ मिलता था ! इस क्षेत्र में रोजगार सिर्फ खेती है और किसानों के हितार्थ किसानों को आगे बढ़ाने के लिए किसानों को समृद्ध करने के लिए सरकार ने बिस्कोमान और शीत भवन का निर्माण किया था लेकिन कुसहा त्रासदी के बाद यह बिस्कोमान और शीत भवन बकाया बिजली बिल नहीं देने के कारण बंद पड़ा हुआ है ! बिजली विभाग का 90 लाख रुपये बकाया है जिसके कारण बिजली काट दिया गया है ! और करोड़ों की लागत से बना हुआ यह बिस्कोमान शीत भवन बंद पड़ा हुआ है ! ग्यारह जिले के किसानों को बहुत ही ज्यादा नुकसान हो रही है उसका आलू प्याज जो महीनों तक खराब नहीं होता था अब उसका आलू प्याज सड़ने लगा है जो छोटा-मोटा व्यवसाई थे वह अपना फल फूल यहां शीत भवन में रखा करते थे महीनों तक खराब नहीं होता था आज वह सब धंधा बंद करके दिल्ली पंजाब भटक रहा है ! बिस्कोमॉन बंद रहने से लोग खेती करना और फल फूल का बिजनेस करना लोग धीरे-धीरे छोड़ता जा रहा है ! सरकार किसानों के हित में छोटे उद्यमियों के हित में कई तरह की योजना चला रही है लेकिन वह योजना सर जमीन पर नहीं उतर पा रही है यह सरकार के लिए एक अशुभ संकेत है, सरकार के लिए चुनौती है अभी किसान के हित में सरकार सोचती है तो सबसे पहले इसे शीत भंडार बिस्कोमान को सरकार चालू करें इसका जो बकाया बिजली बिल है उस समस्या का समाधान करें। उक्त बातें को दर्शाते हुए पूर्व जिला पार्षद प्रवीण आनंद ने कहा कि जो मायूस किसान है उसके चेहरे पर मुस्कान आ सकती है।साथ ही उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि माननीय मंत्री श्री बिजेंद्र यादव के कारण सहरसा का बिस्कोमान शीत भंडार बंद है अगर सरकार नहीं सुनती है तो दिल्ली के तर्ज पर कोशी में आंदोलन होगी !

रिपोर्ट:-मंटुन कुमार,सहरसा ।