शंकर जी तांडव करने, संहार करने के लिये बेताब हैं-बाबा उमाकान्त जी महाराज

प्रेसनोट-03.03.2021, मधुबनी, बिहार*शंकर जी तांडव करने, संहार करने के लिये बेताब हैं-बाबा उमाकान्त जी महाराज*विख्यात परम सन्त बाबा जयगुरुदेव जी महाराज के आध्यात्मिक उत्तराधिकारी पूज्य सन्त बाबा उमाकान्त जी महाराज ने 3 मार्च 2021 को मधुबनी, बिहार में सतसंग सुनाते हुए बताया कि गुरु महाराज का काम मैं कर रहा हूं इसलिए में भी यह चाहता हूं कि ज्यादा से ज्यादा लोग सतयुग को देख लें, नहीं तो शिवजी का काम क्या है संहार करने का, वह तो संहार करने के लिए, मारने के लिए तांडव करने के लिए बेताब हैं, बेचैन हैं।*महाराज जी ने बताया कि शंकर भगवान को मनाया जा रहा कि थोड़ा समय और दे दीजिये*प्रार्थना किया जा रहा है कि थोड़ा समय और दे दीजिए, थोड़ा मौका और दे दीजिए। लोगों को समझा लिया जाए, बता लिया जाए जिससे लोग सतयुग को देख ले। गुरु महाराज जी मेरे लिए ही कह कर गए थे कि पुरानों की संभाल करेंगे और नयों को नाम दान देंगे तो संभाल की ही बात कर रहा हूं। हमारे लिए कोई भी दुष्ट नहीं है। यह जातिवाद, भाषावाद, एरियावाद यह सब आप ने पैदा किया भगवान ने तो मानव धर्म बनाया, मानव बनाया।