मौन प्रतिवाद: कांग्रेसियों ने प्रदेश अध्यक्ष के रिहाई के लिए गांधी चबूतरे पर किया मौन विरोध

कौशांबी। उत्तर प्रदेश सरकार ने असंवैधानिक तरीके से कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार किया है। इसके विरोध में जिले के कांग्रेस कार्यकर्ता सड़क पर उतर कर विरोध कर रहे हैं। सरकार को इस मामले को संज्ञान में लेते हुए तत्काल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई होनी चाहिए उक्त बातें पार्टी जिला अध्यक्ष अरुण विद्यार्थी ने शनिवार को कांग्रेसियों ने जिला मुख्यालय स्थित ब्लॉक परिसर में गांधी चबूतरे में मौन प्रतिवाद के दौरान कही।
इस मौके पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश अध्यक्ष जब प्रवासी मजदूरों के लिए बसों को लेकर गए थे। ऐसे में प्रदेश सरकार ने प्रवासी मजदूरों तक सहायता पहुंचाने के उद्देश्य से उन्हें फर्जी तरीके से मुकदमे में फंसा कर जेल भेज दिया। जो कि सरकार की प्रवासी मजदूर विरोधी रणनीति को दिखाती और दर्शाती है। इस मौके पर बोलते हुए पार्टी नेता वेद प्रकाश सत्यार्थी ने कहा कि यदि सरकार हमारे प्रदेश अध्यक्ष को जल्द से जल्द रिहा नहीं करती तो पार्टी कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर संघर्ष करने के लिए तैयार है। कार्यक्रम के दौरान हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर बैठे कांग्रेसी कार्यकर्ता अपने नेता की रिहाई की मांग करते हुए दिखे इस मौके पर प्रमुख रूप से शाहिद सिद्दीकी, राजेंद्र त्रिपाठी, आशीष कुमार मिश्रा पप्पू, रजनीश पांडे, तमजीद अहमद, बरसाती पंडा, सरदार हुसैन रिजवी, देवेश श्रीवास्तव, वेद प्रकाश सत्यार्थी ,राजकुमार, अनिल पांडे, इजहार अब्बास, भारत गौतम, राजेंद्र भारती, मकसूद कुरेशी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे।