अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सोच फ़ाउंडेशन ने डॉक्टर तरुण निगम को किया सम्मानित

कानपुर। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सोच फ़ाउंडेशन ने विभिन्न प्रकार से लोगों को योग व अवसादग्रस्त से जागरुक किया।
कानपुर में सोच टीम ने डॉक्टर तरुण निगम (मनोचिकित्सक)से संवाद कर लोगों को कोरोना महामारी के काल में अवसादग्रसित (मानसिक तनाव) लोगों को कैसे इससे बचाया जाए जिसमें डॉक्टर तरुण निगम ने बताया योग से अपने आपको मानसिक रूप से स्वस्थ रख सकते है क्योंकि योग से सिर्फ़ स्वास्थ्य ही नही आपकी मानसिक स्थिति भी सही रहती है
और इस समय लोग मानसिक रूप से भी कमजोर होते जा रहे है उन्होंने ये भी बताया कि इण्डियन मेडिकल काउन्सिल के अध्यन के द्वारा ये पता चला कि कोरोना काल में अवसाद ग्रस्त लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है जिससे हमें बचना होगा और नियमित योग करना होगा साथ ही सोच फ़ाउंडेशन के सदस्यों द्वारा डॉक्टर तरुण निगम को कोरोना वारियर के रूप में सम्मानित किया व आज ऑल इंडिया सोच फ़ाउंडेशन ने पूरे देश भर सोशल डिस्टन्सिंग को अपनाते हुए आर्ट ऑफ़ लिविंग के समनवय से सोच फ़ाउंडेशन ने देश भर के तमाम लोगों को सोच का योगाभ्यास वेबिनार के द्वारा लोगों को जोड़ा व आर्ट ऑफ़ लिविंग के फ़ैकल्टी रतनम और अभिषेक द्वारा योग और मेडिटेंशन से खुद को स्वस्थ कैसे रखे इसकी पूरी जानकारी दी गई।
इस पूरे कार्यक्रम को सोच फ़ाउंडेशन के सदस्यों द्वारा जिसमें अनुप्रिया पांडेय, प्रियंका सिंह, रजत ,
स्वेता विश्वकर्मा,सुमांत श्रीवास्तव,वंदना शाक्या,अदिति तिवारी,स्वेता पांडेय,अविनाश मिश्रा,सुप्रिया गुप्ता ,दीपक यादव आदि द्वारा इस कार्यक्रम को सफलता पूर्वक सम्पन्न किया।