सोनौली:होटल निरंजना के बाहर नन्ही परी ने रखा कदम तो दंपति ने नाम ही रख दिया निरंजना

सोनौली/महराजगंज। नेपाल से भारत वतन वापसी के लिए प्रतिदिन सैकड़ों भारतीय नागरिक नेपाल के विभिन्न सीमाओं से भारत में प्रवेश कर रहे हैं। बुधवार को भी बड़ी संख्या में भारतीय नागरिक सोनौली नेपाल बॉर्डर के निकट होटल निरंजना के अंदर स्थित इमीग्रेशन ऑफिस के बाहर लम्बी लाइन लगाकर खड़े थे। इन्हीं लोगों में लखीमपुर खीरी का रहने वाला दिनेश कुमार भी अपनी गर्भवती पत्नी कुसमा को लेकर लाइन में खड़ा था। यह दंपति नेपाल के नवलपरासी जिले के एसबीआई ईट फैक्ट्री में काम करता था। भारत में प्रवेश मिलने के इंतजार के दौरान कुसमा को प्रसव पीड़ा शुरू हुई। प्रसव पीड़ा को बढ़ता देख अन्य महिलाओं की मदद से कपड़ों से चौतरफा घेराव कर महिला को पर्दे में किया गया। जहां लोगों की मदद से कुसमा ने पुत्री को जन्म दिया। होटल निरंजना के बाहर पुत्री के जन्म लेने की खुशी में दंपति ने उसका नाम ही निरंजना रख दिया। इसके बाद स्थानीय पुलिस ने जच्चा-बच्चा को नौतनवा के सीएचसी में लाकर भर्ती कराया। सीएचसी की स्टाफ नर्स आशा प्रेम लता ने बताया कि माँ और बच्चा दोनों पूरी तरह स्वस्थ हैं।

रिपोर्ट-मुराद अली (ब्यूरो चीफ महराजगंज)