अपने ही ससुरारी जनों से तंग आकर पीड़ित महिला बैठी धरने पर

खबर आज दिनांक 28 9 2020 पीड़ित महिला चांदनी देवी पुत्री जीत बहादुर ग्राम लालपुर महमूदपुर थाना ब्लाक सिधौली तहसील पुवायां जिला शाहजहांपुर उपरोक्त महिला ने चौकी प्रभारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया मेरे ससुराल जनों से मिलकर जबरिया थाना सिंधौली शाहजहांपुर से दिनांक 239 2020 को अपहरण कर अभद्र व्यवहार करते हुए चौकी प्रभारी ने बेरहमी से पिटाई कर दी इसकी सूचना थाने पर दी तो थाने पर पीड़िता की सुनवाई न करते हुए उल्टा भगा दिया गया पीड़ित का यह भी आरोप है कि मेरे पति के कहने पर पुलिस द्वारा हमारा उत्पीड़न किया जाता है इसी को लेकर गंभीर आरोप लगाते हुए पीड़ित महिला अपनी बहन के साथ कलेक्ट्रेट शाहजहांपुर धरने पर बैठ गई महिला का कहना है दर दर की ठोकर खा रहे हैं कहीं न्याय मिलता नहीं दिखाई दे रहा है उल्टा हमी को बंद करा दिया गया हम जमानत पर छूटे हैं फिर भी न्याय मिलता नहीं दिखाई दे रहा है पीड़ित महिला ने ज्ञापन राज्यपाल महिला आयोग उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ गृह मंत्री भारत सरकार प्रधानमंत्री भारत सरकार राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग हर जगह लिखित में अपना दुख दर्द सुना चुकी है लेकिन कहीं से कहीं सुनवाई होते महिला को दिखाई नहीं दे रही महिला का साफ कहना है भूखे प्यासे यहीं बैठे रहेंगे जब तक हमें न्याय नहीं मिलेगा क्योंकि पुलिस में जाते हैं तो पुलिस उत्पीड़न करती है ससुराल जाने की नौबत होती है ससुराली जन उत्पीड़न करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं इसी को लेकर महिला न्याय के लिए दर-दर भटक रही है शायद योगी जी की बड़ी-बड़ी बातें महिलाओं का उत्पीड़न महिलाओं की रक्षा के लिए बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ नारा तो लगाते हैं बीजेपी के लोग लेकिन कर्मचारी अधिकारी सब मिलकर भ्रष्टाचार की गठरी बांध चुके हैं शायद योगी जी को नहीं पता यही भ्रष्टाचारी बीजेपी का अंत करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे और फिर जो सरकार आएगी उसी सरकार का पानी भरने लगेंगे शायद योगी जी को अधिकारी कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार पर नकेल कसना चाहिए और महिलाओं के उत्पीड़न को लेकर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए
शाहजहांपुर से क्राइम ब्यूरो आर एस शर्मा की रिपोर्ट