आगरा में मेडिकल कॉलेज से कुछ दूर मिला छात्रा का शव, परिवार ने डॉक्टर पर लगाया आरोप

जहां एक तरफ देशभर में लोग कोरोना वायरस जैसी महामारी से परेशान हैं तो वहीं उत्तर प्रदेश अपराधिक मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. उत्तर प्रदेश के आगरा में बुधवार की सुबह को 15 साल की एक मेडिकल छात्रा का शव उसके कॉलेज से कुछ किलोमीटर की दूरी पर बरामद किया गया. छात्रा का शव थाना डौकी के बमरौली कटारा के पास मिला. छात्रा मूल रूप से दिल्ली के शिवपुरी की रहने वाली थी. उसके शरीर पर कई चोट के निशान पाए गए हैं.

इस मामले को लेकर परिवार की और से अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी और बताया गया था कि वह मंगलवार से ही लापता है. रिपोर्ट दर्ज होने के कुछ घंटों बाद ही छात्रा का शव बरामद किया गया. बता दें कि दर्ज कराई गई रिपोर्ट में परिवार की ओर से जालौन में तैनात एक डॉक्टर पर छात्रा को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया था. पुलिस ने आरोपी डॉक्टर को हिरासत में ले लिया है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. आरोपी को हिरासत में लिया गया है. उसके सिर और गले पर चोट के निशान थे, जिससे साफ होता है कि संघर्ष हुआ था.