राष्ट्रीय राजमार्ग को जोड़ने वाले सम्पर्क मार्ग की हालत हुई बद से बदतर

राष्ट्रीय राजमार्ग को जोड़ने वाले सम्पर्क मार्ग की हालत हुई बद से बदतर

रिपोर्ट प्रमोद यादव ब्यूरो चीफ सुल्तानपुर यूपी फाइट टाइम्स
धम्मौर सुल्तानपुर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार सड़कों को गड्ढा मुक्त रखने के लिए लगातार अभियान और गाइडलाइन जारी करती रहती है पर सुल्तानपुर के अधिकारियो पर इसका कोई असर नही है।बीते नवरात्रि से पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की सभी सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का निर्देश दिया था लेकिन सुल्तानपुर के लोक निर्माण विभाग के अधिकारी के लिए मुख्यमंत्री का आदेश कोई मायने नहीं रखता है इस बात की गवाही दे रही है तीन राष्ट्रीय राजमार्गों को जोड़ने वाले अलीगंज बाजार से महेश्वर गंज राष्ट्रीय राजमार्ग बांदा से टांडा को जोड़ने वाली सड़क का।जिसकी हालत चिंताजनक है…यह सडक इस हालत मे पहुच गयी है कि इस पर चलना मुश्किल हो गया है। यह संपर्क मार्ग लखनऊ से बनारस हाईवे को राष्ट्रीय राजमार्ग बांदा से टांडा को तथा राष्ट्रीय राजमार्ग अयोध्या से प्रयागराज को जोड़ने वाला संपर्क मार्ग है जिसकी हालत इतनी दयनीय है कि इस पर चलना बहुत मुश्किल हो रहा है। इस संपर्क मार्ग पर सैकड़ों गांव के लोगों का आवागमन प्रतिदिन होता है। संपर्क मार्ग की हालत खस्ता होने से लोगों को आवागमन में असुविधा हो रही है। सड़क पर गड्ढे ही गड्ढे हैं गिट्टी इधर-उधर सड़क पर बिखरी हुई है जिससे बाइक सवार लोग गिरकर चोटिल हो रहे हैं।सुल्तानपुर पूर्व केंद्रीय मंत्री व जिले की सांसद मेनका संजय गांधी का संसदीय क्षेत्र है जो जिले के विकास के लिए अधिकारियों को बराबर दिशा निर्देश देती रहती हैं तथा स्वयं भी गांव-गांव घूमकर विकास कार्यों का जायजा लेती रहती है इसके बावजूद लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों पर कोई असर नही है।