जिलाधिकारी ने आबादी सर्वेक्षण की स्टेयरिंग कमेटी की समीक्षा बैठक की

व्यूरो चीफ बालकृष्ण विश्वकर्मा

चित्रकूट – जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में 15 अगस्त 2020 को स्वतंत्रा दिवस मनाए जाने की तैयारी के संबंध में समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक तथा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि प्रातः 7 बजे जो प्रभात फेरी निकाली जाती थी उसे कोरोनावायरस महामारी को देखते हुए न करा कर पेंटिंग, चित्रकला, ऐसे, राष्ट्रगीत आदि प्रस्तुति के कार्यक्रम ऑनलाइन आयोजित कराए जाएं। प्रातः 8 बजे शासकीय, अर्ध शासकीय भवनों तथा कार्यालयों पर ध्वजारोहण किया जाए तथा 8:30 बजे समस्त विद्यालयों पर ध्वजारोहण करें। 9 बजे मलिन बस्तियों पर सफाई कार्यक्रम जिला पंचायत राज अधिकारी, अधिशासी अधिकारी तथा एपीओ डूडा द्वारा कराया जाए। 9:30 बजे प्रभागीय वनाधिकारी वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित कराए। 10 बजे सभी चिकित्सालयों पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी व संबंधित उप जिलाधिकारी मरीजों के मध्य फल वितरण का कार्यक्रम आयोजित कराएं। एक बजे दृष्टिहीन बालिका विद्यालय शंकर बाजार करबी में मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी कार्यक्रम को आयोजित कराएंगे।जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक तथा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को यह भी निर्देश दिए कि देश भक्ति से संबंधित गीतों पर छात्र-छात्राओं का ऑनलाइन प्रतियोगिता आयोजित कराकर पुरस्कृत भी कराया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 को देखते हुए सभी कार्यक्रम सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए कराया जाए।
तत्पश्चात जिलाधिकारी ने आबादी सर्वेक्षण की स्टेयरिंग कमेटी की बैठक की समीक्षा की।जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह से कहा कि आबादी सर्वेक्षण पर जो शासन से निर्देश प्राप्त हुए हैं उसको कमेटी के सभी सदस्यों को उपलब्ध करा दें ताकि वह अध्ययन करके कार्यक्रम को कराएं तथा जो बिना मैप के कार्य होना है उसको सभी तहसीलों पर तत्काल करा दिया जाए उन्होंने कहा कि आबादी सर्वेक्षण में 263 गांव जो लिए गए हैं उसमें डाटा सही तरीके से फीड कराया जाए। सभी उपजिलाधिकारी क्रास चेकिंग अवश्य करें कहा कि यह शासन की महत्वाकांक्षी योजना है इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होना चाहिए।उन्होंने उपजिलाधिकारी तथा तहसीलदारों को यह भी निर्देश दिए कि ओलावृष्टि व अतिवृष्टि के नुकसान का भुगतान जिन किसानों का अभी तक शेष है उसको तत्काल दो दिन के अंदर करा दें और उपजिलाधिकारी व तहसीलदार संयुक्त हस्ताक्षर से प्रमाण पत्र भी उपलब्ध कराएं।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह, प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, उप जिलाधिकारी कर्वी राम प्रकाश, मानिकपुर संगम लाल, उप निदेशक कृषि टीपी शाही, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय कुमार पांडेय सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।