You are currently viewing FATEHPUR- स्वास्थ्य केंद्र के बाहर इलाज के लिए तड़पता रहा घायल डॉक्टर रहे गायब

स्वास्थ्य केंद्र के बाहर इलाज के लिए तड़पता रहा घायल डॉक्टर रहे गायब

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

फतेहपुर (ब्यूरो)– जनपद में स्वास्थ्य विभाग की सेवाएं इस तरह से चरमराई हैं कि लोगों को समय पर इलाज नहीं उपलब्ध हो पा रहा है और कई जगह पर डॉक्टर समय के पहले ही स्वास्थ्य केंद्र में ताला लगा निकल जाते हैं ऐसा ही एक मामला फतेहपुर जनपद के सामने आया जहां विजयीपुर स्वास्थ्य केंद्र पर समय के पहले ही ताला लगा नजर आया और अस्पताल के सामने घायल इलाज के लिए तड़पता रहा ।
जानकारी के मुताबिक किशनपुर थाना क्षेत्र के विजयीपुर चौकी अंतर्गत गोदौरा मोड़ के समीप एक मैजिक की टक्कर से असोथर थाना क्षेत्र के गद्दोपुर रिठवा गांव निवासी अजीम खान पुत्र सज्जन जो जमकोइली से अपने गांव वापस जा रहा था तभी गोदौरा मोड़ के समीप एक मैजिक की टक्कर लग गई जिसमे युवक गंभीर रूप से घायल हो गया था जिसके बाद इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई तो मौके पर पहुंची विजयीपुर पुलिस ने अपनी गाड़ी में घायल को लादकर अस्पताल लाए जहां स्वास्थ्य केंद्र पर डॉक्टरों की घोर लापरवाही सामने आई और स्वास्थ्य केंद्र पर शाम 4:00 बजे ही ताला लगा नजर आया जिसके बाद मजबूरी में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों ने घायल का उपचार किया इसके कुछ देर बाद मौके पर फार्मासिस्ट पहुंचे ज्ञात हो कि अभी 2 दिन पहले ही क्षेत्रीय विधायक कृष्णा पासवान ने अस्पताल का निरीक्षण किया था जिसमें सुबह से 7:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक डॉक्टर रहने का भरोसा दिया था लेकिन यहां पर डॉक्टरों ने सरकार के आदेशों को ताक में रखकर 4:00 बजे ही स्वास्थ्य केंद्र पर ताला लगा निकल जाते हैं जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है सरकारी डॉक्टर कितने बेलगाम है और स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरीके से बेपटरी चल रही हैं सवाल यह उठता है या फिर ऐसे डॉक्टरों को किसका संरक्षण प्राप्त है जिसके दम पर यह सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ाते नजर आते हैं वही मामले को लेकर फतेहपुर जिला अधिकारी अपूर्व दुबे से भी शिकायत की गई है ।
वही मामले से बाबत खंड चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि शाम 4:20 पर एक असोथर क्षेत्र के व्यक्ति का इलाज किया गया है ।