You are currently viewing FATEHPUR- अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता की तर्ज पर चले खदान संचालक

अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता की तर्ज पर चले खदान संचालक

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

फतेहपुर– नवंबर का महीना आने को है और ऐसे में खदान संचालकों की सुगबुगाहट तेज हो गई है और वह कालिंद्री का सीना चलनी करने के लिए रास्तों का मरम्मती करण करा रहे हैं पर कहीं मरम्मती करण लोगों के लिए सुविधा दायक हो रहा है तो कहीं लोग नाराज दिख रहे हैं ।
जानकारी के मुताबिक नवंबर माह से मोरम खदानों का चलना तय माना जा रहा है ऐसे में एक बार फिर से क्षेत्र में कहीं चक्का जाम तो कहीं ग्रामीणों का आंदोलन तो कहीं जाम का झाम तमाम तरीकों के विवादों का दौर शुरू होने वाला है जिसकी तैयारियां भी खदान संचालकों द्वारा शुरू कर दी गई है किशनपुर थाना क्षेत्र में संचालित होने वाले मोरम खदानों के संचालकों के द्वारा सड़क का मरम्मती करण कराया जा रहा है जिसको लेकर विवादों का दौर बुधवार को ही शुरू हो गया जहां किशनपुर थाना क्षेत्र के संगोलीपुर मडैयन खदान संचालक द्वारा नरौली से लगाकर चंदापुर चौराहे तक सड़क में बने गड्ढों को बराबर करने के लिए सड़क में मिट्टी डलवा दी गई जिसके बाद ग्रामीणों ने इसका विरोध शुरू कर दिया और सड़क पर पड़ी मिट्टी को हटाकर बाहर कर दिया ग्रामीणों की मानें तो खदान संचालकों द्वारा अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता की तर्ज पर काम कराया जा रहा है ग्रामीणों का कहना है कि सड़क पर मिट्टी डालने से जब इस पर बालू लदे वाहन निकलेंगे और बालू का पानी इस मिट्टी पर गिरेगा तो राहगीरों को समस्या होगी और इस रास्ते से पैदल निकलना भी मुश्किल हो जाएगा ग्रामीणों ने कहा की मिट्टी की जगह पर बोल्डर ईंटों का भी प्रयोग किया जा सकता है जिससे कि ग्रामीणों का भी समस्या का समाधान हो सके जिसको लेकर बुधवार को काफी देर तक यह ड्रामा जारी रहा ।
वही मामले को लेकर किशनपुर थाना अध्यक्ष आशुतोष सिंह ने बताया कि सड़क में मिट्टी नहीं डाली गई सड़क किनारे जो गड्ढे बने हुए थे वहां पर मिट्टी डाली गई है बाकी किसी प्रकार की कोई दिक्कत वहां नहीं है और ग्रामीण भी इस बात को लेकर खुश हैं ‌