You are currently viewing FATEHPUR- समस्याओं को लेकर जूझ रही है किशनपुर क्षेत्र की जनता विकास की आस में बैठी क्षेत्र की जनता

समस्याओं की बदहाली को लेकर जूझ रही है किशनपुर क्षेत्र की जनता

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

फतेहपुर(ब्यूरो)– किशनपुर थाना क्षेत्र की जनता किशनपुर विधानसभा की जनता इस आशा और उम्मीद में थी की खागा विधानसभा में जुड़ने के बाद शायद क्षेत्र का विकास संभव हो सके और इसमें नई आशा की उम्मीद उस समय जगी जब क्षेत्र की दो बार विधायक रह चुकी कृष्णा पासवान द्वारा भारतीय जनता पार्टी के चुनाव निशान से विधायक बने और सूबे में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आई क्षेत्र में अक्सर यह सुनने को मिलता था कि हमको विपक्षी पार्टियों के द्वारा काम नहीं करने दिया जा रहा लेकिन सही बात तो यह है कि अबकी बार सत्ता में आने के बाद भी मौजूदा विधायक के द्वारा किशनपुर क्षेत्र की जनता के लिए जनहित का कोई कार्य नहीं किया गया।
किशनपुर क्षेत्र का एक भी संपर्क मार्ग सही नहीं है किशनपुर और गढ़ा संपर्क मार्ग के बीच कस्बे के पूर्व में बना तीन करोड़ 94 लाख रुपए की लागत से दमहा नाले के पुल का अप्रोच पिछली बार की तरह इस बार भी बरसात में धस गया जिससे कि राहगीरों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है ऐसा ही कुछ हाल आदर्श ग्राम सभा रामपुर जाने वाली सड़क का है जहां पर आपको गांव के अंदर से जाने के लिए घुटने घुटने भर गंदी नाली के पानी में प्रवेश कर अपने गंतव्य तक पहुंचना पड़ता है इटोलीपुर जाने के लिए मार्ग इतना खराब है कि वहां के प्रधान ने अपने निजी खर्चे से मार्ग का कुछ दुरुस्ती कारण कराया वही यमुना में निर्माण हो रहे पक्के पुल की मिट्टी पुराई के कारण असहट भी जाने में आप बिना गिरे बगैर आप अपने घर नहीं पहुंच सकते उसके आगे महोलीडेरा,जालंधरपुर,गुरुवल गड़ीवा,मझगवा गांव में जाने के लिए आपके पास दैवीय शक्तियां होनी चाहिए तभी आप गंतव्य तक बहुत सकते हैं।
वही किशनपुर से पहाड़पुर होते हुए जो लोक निर्माण विभाग की सड़क बनी थी उस सड़क में तो इतने बड़े गड्ढे हो गए हैं कि यह समझना ही मुश्किल है कि गड्ढे में सड़क है कि सड़क में गड्ढे जबकि यह मार्ग करोड़ों रुपए का राजस्व देता है उसके बाद भी मौजूदा विधायक और सांसद के द्वारा किसी भी प्रकार का कोई जनहित का कार्य क्षेत्र में नहीं किया गया और सबसे हंसने और हंसाने वाली बात यह है कि जिले में सरकार के प्रभारी मंत्री सरकार की खूबियां ऐसे गिनाते हैं कि जैसे सरकार ने इन गांवों को न्यूजीलैंड जैसी सुविधाएं प्रदान कर दी गई हो एक निजी कार्यक्रम में आए सरकार के एक राज्य मंत्री ने कहा कि आपके क्षेत्र की सड़क कितनी अच्छी है कि अगर मुझे इन सड़कों में तीन दिन चुनाव प्रचार करना पड़े तो मैं नहीं कर सकता सबसे खास बात यह है कि जब एक राज्य मंत्री इन बातों को स्वीकार कर रहे है तो क्षेत्र का विकास कितना है आखिरकार ये सोचने की बात है।