अखिल भारतीय किसान सभा के नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पुलिस और नेताओं में हुई नोकझोंक

मऊआइमा / प्रयागराज

प्रयागराज से रवि चंद्रा की रिपोर्ट

अखिल भारतीय किसान सभा के नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पुलिस और नेताओं में हुई नोकझोंक

किसानों ने भारत बंद का आह्वान किया था जिसको लेकर अखिल भारतीय किसान सभा ने भारत बंद का समर्थन किया था वही आज भारत बंद के चलते मऊआइमा पुलिस भी काफी चुस्त दुरुस्त नजर आई। भारत बंद धरना प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए मऊआइमा पुलिस ने अखिल भारतीय किसान सभा यूनियन के नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया था गिरफ्तारी की सूचना जैसे ही किसान मजदूर यूनियन के कार्यकर्ताओं को लगी तो किसान मजदूर यूनियन के कार्यकर्ताओं ने मऊआइमा थाने मैं पहुंच कर अपने नेता की रिहाई की मांग करने लगे किसान मजदूर यूनियन के कार्यकर्ताओं ने कहा कि या तो हमारे नेता को रिहा करो नहीं तो हमें भी जेल भेजो यह अखिल भारती किसान सभा के नेताओं की मांग थी यहां तक कि अपनी गिरफ्तारी भी देने मऊआइमा थाने पहुंचे थे जिससे नेताओं और पुलिस ने कई बार नोकझोंक भी हुई मुख्य रूप से शामिल अखिल भारतीय किसान सभा के संयोजक भूपेंद्र पांडे डॉक्टर राजनाथ पटेल स्टेट कमेटी सदस्य पृथ्वीपाल यादव बहरिया मंडल सदस्य राम कैलाश पटेल, छेदीलाल क्षेत्रीय मंत्री ,फूलचंद प्रेमी, दारा चौहान ,राम सवारी पटेल ,गुलाबा देवी आदि लोग शामिल रहे और सभी कार्यकर्ताओं ने यह मांग किया कि जब तक काले कानून को वापस नहीं लिया जाएगा तब तक हम किसानों के साथ लड़ाई लड़ते रहेंगे यह अखिल भारतीय किसान सभा के कार्यकर्ताओं की मांग थी