आँवला तहसील में राजस्व विभाग के अधिकारी को दस हजार रूपये की रिश्वत लेते एंटीकरप्शन टीम ने किया गिरफ्तार।

बरेली-आँवला तहसील में एंटीक्रप्सन की टीम ने एक किसान से रिस्वत लेते हुए एक कानून गो को गिरफ्तार किया है। जिससे तहसील में हडकंप मच गया है।
थाने में पुलिस की गिरफ्त में खड़े ये कानूनगो इफ्तियार है, जिन पर किसान से 10 हजार रुपये रिश्वत लेने का आरोप है। किटौना गांव के किसान जगन्नाथ का आरोप है की उन्होंने पट्टे की शिकायत की थी लेकिन कानूनगों ने उनसे 10 हजार रुपये की रिश्वत मांगी जिस वजह से किसान ने एंटीकरप्शन में शिकायत की। जिसके बाद आज एंटीकरप्शन की बरेली यूनिट ने कानूनगो को ट्रेप किया और उसे रंगे हाथों किसान से 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया।
वही इस मामले में एंटीकरप्शन के प्रभारी निरीक्षक सुरेश दत्त मिश्रा का कहना है की किटौना गांव के किसान जगन्नाथ की जमीन पर किसी ने कब्जा कर रखा था जिसकी शिकायत उसने एसडीएम आँवला से की थी। एसडीएम ने तहसीलदार को जांच करने को कहा था जिस पर तहसीलदार ने कानूनगों मोहम्मद इफ्तियार को जमीन नापने के आदेश कर दिए थे। लेकिन कानूनगों किसान की जमीन नापने नही जा रहे थे और फिर कानूनगों से 10 हजार रुपये की रिश्वत मांगी। जिसके बाद किसान ने 26 जून को एंटीकरप्शन कार्यालय जाकर शिकायत की जिसके बाद आज एंटीकरप्शन की टीम ने किसान से 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथो गिरफ्तार कर लिया। कानूनगो के खिलाफ आँवला थाने में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

रिपोर्ट- विशेष संवाददाता दयाशंकर पाराशरी(बरेली)