FATEHPUR- जांच टीम के सामने ग्रामीणों ने खोला राज, बोले सरकारी पैसे का खूब हुआ बंदरबांट

गढ़ा में प्रधानमंत्री आवास व मनरेगा की सीडीओ ने परखी हकीकत

सचिव रोजगार सेवक व टीए को जारी स्पष्टीकरण नोटिस

विजयीपुर फतेहपुर मनरेगा व आवास के तहत घोटालों की शिकायत पर गढ़ा में पहुंची टीम आपको बता दें ब्लॉक विजयीपुर के ग्राम पंचायत गढ़ा में मनरेगा व आवास के तहत कार्यों में घोटालो के आरोपों के बाद टीम निरीक्षण के लिए पहुंची। इस दौरान जांच टीम ने आवास में कई पात्रो का नाम कटा पाया साथ ही मनरेगा के जॉब कार्ड धारकों से पूछताछ करते हुए कार्यों का भौतिक सत्यापन किया। इस दौरान टीम ने गांव में मनरेगा के तहत कार्यों की मौके पर जांच पड़ताल करते हुए नदारत कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने की बात कही। गौरतलब है कि ‌ब्लॉक विजयीपुर के ग्राम पंचायत गढ़ा में मनरेगा व आवास के तहत कार्यों में घोटाले की शिकायत ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से की थी। जिसके बाद डीएम ने मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश जिला परियोजना अधिकारी अशोक निगम आदि को जांच के लिए भेजा टीम बुधवार को गढ़ा ग्राम पंचायत में पहुंची और कार्यों का भौतिक सत्यापान किया। ग्रामीणों ने जांच टीम को बताया कि गांव में आवास योजना व मनरेगा के नाम पर लाखों की रुपयों की मिली भगत से बंदरबाट की गई है। वहीं ऐसे लोगों से मजदूरी करना दर्शाया गया है जो पिछले कई सालो से बीमार हैं। वहीं जबकि अधिकत्तर मजदूरों को बिना काम कराए ही पैसा दिया गया है। मनरेगा मस्टररोल व अन्य दस्तावेज न दिखा पाने के कारण मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने ग्राम विकास ग्राम अधिकारी विकास कुमार रोजगार सेवक राजबाबू सिंह सहायक तकीनीकी शोएब अहमद को नोटिस जारी करते हुए स्पष्टीकरण मांगा जांच टीम को कई मामलों में अनियमितता मिली टीम के अधिकारियों ने बताया कि मनरेगा व आवास के तहत ग्राम पंचायत में हुए कार्यों का भौतिक सत्यापन किया गया। इसके बाद बयान लेकर जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी जाएगी। वहीं, खंड विकास अधिकारी गोपीनाथ पाठक सहित विकास खंड के अन्य कर्मचारी भी टीम के साथ रहे।