एसपी अभिनंदन द्वारा डायल 112 पुलिसकर्मी को क्राइम शीन प्रोटेक्शन का दिया गया प्रशिक्षण।

जिले के विभिन्न प्रकार की घटनाओं में त्वरित कार्यवाही के लिए चल रही यूपी 112 क्राइम सीन प्रोटेक्शन के दिए गए टिप्स।-

पुलिस कार्यालय मंझनपुर कौशांबी में क्राइम सीन प्रोटेक्शन किट का प्रशिक्षण दिया गया साथ ही मौजूद लोगों को घटनाओं के बाद क्राइम सिंह प्रोडक्शन हेतु बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में आवश्यक जानकारी दी गई। वह स्थान है जहा कोई अपराध हुए हो। अपराध स्थान जहा सबूत प्राप्त होते है, जो अपराध और अपराधी को जोडता है। अपराध स्थान पर जांच पड़ताल अपराध दृश्य अन्वेषणकर्ता करता है। सबसे पहले अपराध स्थान कोप्रतिबंधित किया जाता है की कोई भी सबूत नस्ट न हो या उस सबूत को हटा न दे। पहले अपराध दृश्यअन्वेषणकर्ता एक पुलिस वाला होता है। पूरे अपराध स्थान का फोटो लिया जाता है। अपराधिक स्थान पर अन्वेषणकर्ता या कोई और व्यक्ति सबूत को अपनी स्थान से नही हटा सकता जब तक उसकी तस्वीर ना ली गई हो। अनधिकृत व्यक्ति को अपराधिक स्थान पर आने नही दिया जाता है। अपराध स्थान पर मिले हुए सबूतों को ध्यान से उठाया जाता है फिर उससे उतनी ही ध्यान से पैक किया जाता है। कोई सबूत खराब ना हो जाये। अपराध दृश्य अन्वेषणकर्ता को खास ध्यान रखना पड़ता है की कोई अनजान व्यक्ति अपराध स्थान पर ना आये या किसी भी वस्तु या सबूत को हाथ ना लगाएं।मौके पर एसपी अभिनंदन अपर पुलिस अधीक्षक क्षेत्राधिकारी सिराथू प्रभारी डायल 112 अन्य अधिकारी और कर्मचारियों की मौजूदगी रही।

कौशांबी से निहाल शुक्ला की रिपोर्ट