दो मंजिला मकान धराशायी, एनडीआरएफ की टीम ने किया राहत बचाव कार्य

जिला ब्यूरो चीफ अर्जुन सिंह की रिपोर्ट

प्रयागराज के थाना कोतवाली, शाहगंज के समीप 22 सितंबर की रात लगभग 11ः30 बजे एक 02 मंजिला जर्जर मकान की छत का एक हिस्सा गिरने से मलबे में एक 15 वर्षीय बालिका जेबा परवीन पुत्री मोहम्मद उमर मलबे के नीचे दब गई। सूचना मिलते ही प्रशासन व पुलिस मौके पर पहुंच गई लेकिन बालिका के बहुत ही सकरी और तंग जगह पर मलबे में दबे होने के कारण अपर जिलाधिकारी द्वारा एनडीआरएफ टीम को घटना की जानकारी देते हुए बचाव कार्य हेतु बुलाया गया। निरीक्षक जगदीश राणा के नेतृत्व में 20 सदस्यीय एनडीआरएफ की एक टीम सभी बचाव उपकरणों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर राहत बचाव कार्य शुरू किया। प्रारम्भ में एनडीआरएफ टीम के रेस्क्युर्स ने बहुत ही तंग और संकरी जगह में दबी हुई बालिका तक पहुंच बनाई और मलबे को बहुत ही सावधानी के साथ घायल के ऊपर से हटाना शुरू किया। अस्थिर मकान के अन्य हिस्सों को ध्यान में रखते हुए पूरी सावधानी के साथ एनडीआरएफ टीम ने कुछ ही समय में बालिका को मलबे से बाहर निकाल लिया और उसे स्थानीय पुलिस को सुपुर्द कर दिया, जिसे एसआरएन हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।