You are currently viewing FATEHPUR- गढ़ा प्रधान के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा उच्च अधिकारियों से की आवास योजना मे धांधली की शिकायत

गढ़ा प्रधान के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा उच्च अधिकारियों से की आवास योजना मे धांधली की शिकायत

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

विजयीपुर– विजयीपुर विकासखंड की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत में सबसे बड़ा घोटाले का आरोप ग्रामीणों में ग्राम प्रधान पर लगाया है और ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान के गड़बड़ झाले से परेशान होकर अब ग्राम प्रधान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है आपको बता दें कि फतेहपुर जनपद के विजयीपुर विकास खण्ड की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत गढ़ा में प्रधानमंत्री आवास योजना में अपात्रों को शामिल किये जाने पर पात्र भड़क गये और कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन करते हुए अपर उपजिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपकर पीएम आवास योजना का लाभ दिलाये जाने के साथ ही दोषियों पर आवश्यक कार्रवाई किये जाने की मांग की है आपको बता दें कि पिछले 5 सालों में ग्राम प्रधान ने सरकारी पैसों का खूब बंदरबांट किया है और सरकारी योजनाओं को ग्राम गरीबों तक ना पहुंचा कर अपनी जेब में मोटी रकम इकट्ठा की है जिससे ग्रामीण अब नाराज हो गए हैं और ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान के खिलाफ उच्च अधिकारियों से शिकायत कर जांच की मांग की है आपको बता दें कि ग्राम पंचायत गढ़ा के पात्र ग्रामीण कलेक्ट्रेट पहुंचे और अपर उप जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) की प्राथमिकता सूची में व्यापक रूप से धांधली की जा रही है। शासन द्वारा चयनित आवास सूची में परिवर्तन कर अपात्रों व सूची में नीचे अंकित लाभार्थियों को ऊपर लाने के लिए पात्र असहाय लाभार्थियों का नाम काटकर सूची संशोधित कर आवास का लाभ दिया जा रहा है। जनके साक्ष्य में कुछ लाभार्थियों की सूची उनके क्रम संख्यावार मूल व संशोधित प्राथमिकता सूची संलग्न की जा रही है। यह प्रकरण खण्ड विकास अधिकारी व कुछ दबंग भाजपा नेताओं की दादागीरी के कारण उजागर हो रहा है। ग्रामीणों ने एएसडीएम से मांग किया कि मामले की अन्य सक्षम अधिकारी से जांच कराकर पात्रता सूची के साथ खिलवाड़ करने वाले दोषियों पर आवश्यक कार्रवाई की जाये साथ ही पात्रों को सूची में चयनित करते हुए प्राथकिता के आधार पर आवास का लाभ दिलाया जाये। इस मौके पर रईसा बेगम, प्रेमा देवी, राजा देवी, धनरजिया देवी, जैतुन निशा, सावित्री देवी, संगीता देवी, अन्ती देवी, चमेली देवी, प्रभु देवी, सुनीता देवी, शिवकरन, नीता देवी आदि मौजूद रहीं।