भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है योगी सरकार- अरुण विद्यार्थी

ब्यूरो चीफ आर पी यादव

कौशांबी। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के भ्रष्टाचार ख़िलाफ़ एक कांग्रेस पार्टी ने “पोल-खोल”अभियान की शुरुआत हो रही हैं। जो सरकार के द्वारा यूपी में 69000 शिक्षक भर्ती घोटाला, पशुधन घोटाला किया है जो आम जनमानस के खिलाफ है। उक्त बातें जिला अध्यक्ष अरुण विद्यार्थी ने सोमवार को राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को सौंपते हुए कही।

इस मौके पर बोलते हुए पार्टी के प्रदेश सचिव व प्रभारी विवेकानंद पाठक ने कहा कि शिक्षक भर्ती घोटाले में पार्टी के एक नेता सम्मिलित होना और उसका जेल जाना यह साबित करता है कि पार्टी के कई बड़े चेहरे भी इस काले कारनामे में शामिल हैं। यही नहीं पशुधन घोटाला भी सरकार की भ्रष्टाचार को साबित करता है जहां विधानसभा में बैठकर फर्जी तरीके से लोगों को लूटा गया है। इस मौके पर बोलते हो जिला अध्यक्ष और विद्यार्थी ने कहा कि भ्रष्टाचार के इन तमाम मुद्दों पर एक आंदोलन चलाना हैं। इस मौके पर प्रमुख रूप से शाहिद सिद्दीकी, तलत तजीम, बरसाती लाल पंडा, आशीष कुमार मिश्रा पप्पू, वेद प्रकाश सत्यार्थी, रजनीश पांडे, शमीम आलम, फैसल अली, मोहम्मद खालिद, अनिल पांडे, जितेंद्र शर्मा, विनोद चौधरी, मथुरा दुबे, असगर मदनी, युनुस अंसारी, आबिदा बेगम, भारत गौतम, राजकुमार, चितानी लाल दिवाकर, सरदार हुसैन रिजवी, फूलचंद पासी, योगेंद्र सिंह, राजेंद्र मिश्रा, संतोष पटेल, इब्ने अली, अली अहमद, प्रदीप सक्सेना, अली अहमद, राजेंद्र प्रसाद, इज़हार अब्बास, आबिदा बेगम, गुलाब कली, शांति देवी, पूजा सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद रहे।